scriptदेश की पहली नदी जोड़ो परियोजना:ढोढऩ बांध का टेंडर, 3389 करोड़ खर्च बनेगा बांध | Patrika News
समाचार

देश की पहली नदी जोड़ो परियोजना:ढोढऩ बांध का टेंडर, 3389 करोड़ खर्च बनेगा बांध

हैदराबाद की नागार्जुन कंस्ट्रक्शन ने 3389.49 करोड़ में टेंडर हासिल किया है। इधर डूब क्षेत्र में आने वाले 10 गांवों के प्रभावितों को 267 करोड़ का मुआवजा बांटा जाना है, जिसमें से 50 करोड़ का वितरण हो चुका है।

छतरपुरJul 08, 2024 / 10:41 am

Dharmendra Singh

dam

ढोढऩ बांध मार्ग

छतरपुर. बुंदेलखंड व देश की पहली नदी जोड़ो परियोजना के मुख्य बांध ढोढऩ के निर्माण का टेंडर हो गया है। 12 कंपनियों के बीच सबसे कम रेट डालकर हैदराबाद की नागार्जुन कंस्ट्रक्शन ने 3389.49 करोड़ में टेंडर हासिल किया है। इधर डूब क्षेत्र में आने वाले 10 गांवों के प्रभावितों को 267 करोड़ का मुआवजा बांटा जाना है, जिसमें से 50 करोड़ का वितरण हो चुका है। बाकी राशि का वितरण जारी है।

इन चार जगहों में विस्थापित होंगे प्रभावित


केन-बेतवा लिंक परियोजना के प्रभावितों के विस्थापन की रणनीति पर काम किया जा रहा है। छतरपुर जिले के प्रभावित 14 गांव के ग्रामीणों को चार गांवों में बसाया जाएगा। इन गांवों में भरकुआं, ढोढन, खरियानी, कुपी, मैनारी, पलकोंहा, शाहपुरा, सुकवाहा, पाठापुर, नैगुवां, डुंगरिया, कदवारा, घुघरी, बसुधा शामिल हैं। इन गांवों के विस्थापित परिवारों को भैंसखार, राइपुरा, नंदगांयबट्टन और किशनगढ़ में बसाया जाएगा। इन चारों स्थानों पर जमीन को चिह्नित कर लिया गया है।

बांध में डूबेंगे 10 गांव


केन बेतवा लिंक परियोजना का मुख्य बांध केन नदीं पर ढोढऩ में बनाया जाएगा। 3389 करोड़ की लागत वाले इस बांध की ऊंचाई 77 मीटर और लंबाई 2031 मीटर यानि करीब 2.03 किमी होगी। बांध की जलभराव क्षमता 6590 मिलियन क्यूबिक मीटर (एमसीएम) होगी। केन-बेतवा लिंक परियोजना में बनाए जा रहे ढोढऩ बांध में 10 गांव ढोढऩ, पलकौहां, खरियानी, भोरखुआं, सुकवाहा, मैनारी, कुपी, शाहपुरा, पाठापुर, नैगुवां डूब जाएंगे। परियोजना में कुल 11284 ग्रामीण प्रभावित होंगे।

घर, परिवार व मवेशी भी होंगे प्रभावित


जल शक्ति मंत्रालय द्वारा बनाए गए प्रारंभिक डीपीआर के मुताबिक 637 कच्चे घर, 1252 आधे कच्चे-पक्के मकान और 24 पक्के मकान डूब क्षेत्र में आ रहे हैं। प्रभावित घरों के मालिकों को मुआवजा के बतौर पक्के मकान के बदले डेढ लाख, आधा कच्चा-पक्का मकान का एक लाख और कच्चा मकान का 50 हजार रुपए मुआवजा दिया जाएगा। दस गांव के डूब क्षेत्र में जाने से न केवल वहां के लोग बल्कि पालतू मवेशी भी प्रभावित होंगे। 9317 गाय, 249 भैंसा, 3387 भैंसे, 345 भेड़, 11957 बकरी, 1378 मुर्गा-मुर्गी और 1952 अन्य पालतू जानवर भी प्रभावित हो रहे हैं।

फैक्ट फाइल


मुख्य बांध में प्रभावित दस गांव
गांव प्रभावित घर
बसौदा 39
भरकुआं 57
ढोढन 132
घौरारी 33
खरियानी 300
कुपी 512
मैनारी 75
पलकोंहा 452
शाहपुरा 88
सुुकवाहा 225

इनका कहना है


डूब क्षेत्र के गांवों के लिए 267 करोड़ की राशि वितरित होना है। अब तक करीब 50 करोड़ की राशि वितरित हो गई, शेष वितरण का काम चल रहा है। प्रभावित गांवों के ग्रामीणों को सुचारू रूप से मुआवजा राशि मिले, इसके लिए पूरे प्रयास किए जा रहे हैं।
निर्मल चंद्र जैन, ईई, केंद्र बेतवा लिंक परियोजना

Hindi News/ News Bulletin / देश की पहली नदी जोड़ो परियोजना:ढोढऩ बांध का टेंडर, 3389 करोड़ खर्च बनेगा बांध

ट्रेंडिंग वीडियो