scriptजानलेवा पानी: दूषित पानी पीकर एक ही गांव के 250 से ज्यादा लोग बीमार, एक की मौत, 15 गंभीर | Patrika News
समाचार

जानलेवा पानी: दूषित पानी पीकर एक ही गांव के 250 से ज्यादा लोग बीमार, एक की मौत, 15 गंभीर

– स्वास्थ्य विभाग के अमले के साथ गांव पहुंचे कलेक्टर, बोरिंग बंद कराते हुए टैंकर से शुरू कराई पानी सप्लाई , पानी के सैंपल जांच के लिए भेजे सागर.नरयावली विस के मेहर गांव में डायरिया से पिछले 24 घंटे में 250 से ज्यादा लोग बीमार हुए हैं, वहीं शुक्रवार को इलाज के दौरान 40 वर्षीय […]

सागरJul 05, 2024 / 08:14 pm

प्रवेंद्र तोमर

– स्वास्थ्य विभाग के अमले के साथ गांव पहुंचे कलेक्टर, बोरिंग बंद कराते हुए टैंकर से शुरू कराई पानी सप्लाई , पानी के सैंपल जांच के लिए भेजे

सागर.नरयावली विस के मेहर गांव में डायरिया से पिछले 24 घंटे में 250 से ज्यादा लोग बीमार हुए हैं, वहीं शुक्रवार को इलाज के दौरान 40 वर्षीय लल्लन बंसल की मौत हो गई। बीमारों में अधिकांश छोटे बच्चे और बुजुर्ग शामिल हैं। मरीजों की संख्या लगातार बढ़ने पर कलेक्टर दीपक आर्य स्वास्थ्य विभाग के अमले के साथ मेहर गांव पहुंचे, जहां उन्होंने जिस ट्यूबवेल के पानी से उल्टी-दस्त होना बताया गया, उसके पानी का सैंपल कराया। इसके साथ ही बोरिंग का बिजली कनेक्शन निरस्त कराते हुए आगामी आदेश तक के लिए उसे बंद करा दिया। गांव में अब टैंकर से पानी की सप्लाई कराई जा रही है।
गुरुवार शाम को अचानक लोगों को उल्टी-दस्त की शिकायत हुई थी, जिसके बाद रात में लोगों का जिला अस्पताल, बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज सहित आसपास के शासकीय-प्राइवेट अस्पतालों में पहुंचना शुरू हो गया था। बीती रात तक बीमारों की संख्या 71 थी, जो शुक्रवार को बढ़कर 250 के पार पहुंच गई है। एक के मौत के साथ गंभीर मरीजों की संख्या 15 के पास पहुंच गई है। स्वास्थ्य विभाग ने गांव में भी तीन अस्थाई स्वास्थ्य केंद्र स्थापित किए हैं। गांव में कीटनाशक दवाओं का छिड़काव किया जा रहा है, तो वहीं स्थिति सामान्य न होने तक 24 घंटे चार डॉक्टर, पैरामेडिकल स्टाफ व दो एंबुलेंस गांव में तैनात रहेंगी।
वर्जन

ग्रामीणों ने जिस बोरिंग का हवाला दिया है। उसके पानी का सैम्पल कराया है। साथ ही मरीजों के इलाज के लिए स्वास्थ्य अमले को तैनात किया गया है, जो हर स्थिति पर नजर रखे हैं। मेहर गांव में भी डॉक्टर व अन्य स्टाफ तैनात किया है।
– दीपक आर्य, कलेक्टर

ये है पूरा मामला

गुरुवार सुबह बांदरी क्षेत्र के मेहर गांव में गुरुवार की सुबह जब लोग सोकर उठे तो एक के बाद एक लोगों को उल्टी दस्त होने लगे। महिला-बच्चों सहित दो मोहल्लों के करीब 65 लोग एक साथ बीमार हुए तो स्वास्थ्य विभाग में हडक़ंपमच गया। गांव के लोग बीमारों को लेकर स्थानीय सरकारी अस्पताल और झोलाछाप डॉक्टर्स के यहां लेकर गए। कई गंभीर मरीजों को सागर भेजा गया। सूचना मिलते ही आनन-फानन में स्वास्थ्य विभाग की टीम जरूरी सामग्री लेकर मौके पर पहुंची। प्रारंभिक पूछताछ में पता चला कि बीमार हुए लोगों ने ग्राम पंचायत के सरकारी बोरवेल का पानी पिया था। अधिकारियों के निर्देश पर गांव में पानी की जांच और बीमारियों का सर्वे शुरू हो गया। शुक्रवार तक आंकड़ा बढ़कर 250 से ज्यादा हो गया है।

Hindi News/ News Bulletin / जानलेवा पानी: दूषित पानी पीकर एक ही गांव के 250 से ज्यादा लोग बीमार, एक की मौत, 15 गंभीर

ट्रेंडिंग वीडियो