scriptधौलपुर: दिनभर भीषण गर्मी के बाद चली धूलभरी हवा, शाम को हल्की बूंदाबांदी ने दी राहत | dholpur | Patrika News
समाचार

धौलपुर: दिनभर भीषण गर्मी के बाद चली धूलभरी हवा, शाम को हल्की बूंदाबांदी ने दी राहत

शहर में गुरुवार को पांच दिनों से तपा रहे नौतपा के छठे दिन शहरवासियों ने गर्मी और धूप से थोड़ी राहत महसूस की। पिछले एक सप्ताह से पारा लगातार बढ़ रहा था। जो 49 डिग्री के करीब जा पहुंचा।

धौलपुरMay 30, 2024 / 10:56 pm

rohit sharma

धौलपुर. शहर में धूलभरी हवा के बीच निकलते लोग।

धौलपुर. शहर में गुरुवार को पांच दिनों से तपा रहे नौतपा के छठे दिन शहरवासियों ने गर्मी और धूप से थोड़ी राहत महसूस की। पिछले एक सप्ताह से पारा लगातार बढ़ रहा था। जो 49 डिग्री के करीब जा पहुंचा। लेकिन गुरुवार को तापमान में दो डिग्री से ज्यादा की गिरावट दर्ज की गई। शाम होते-होते अंधड़ और बूंदाबांदी के कारण 7 बजे अधिकतम तापमान 36 डिग्री पर आ लुढका। हालांकि गुरुवार को चटक धूप और गर्मी ने सुबह से ही लोगों का बुरा हाल कर दिया। और दोपहर 2 बजे पारा 46 पर आ पहुंचा। लेकिन दोपहर 4 बजे के बाद मौसम में आए बदलाव ने लोगों को राहत दी। आसमान में छाए बादलों के साथ तेज धूल भरी आंधी चलने लगी। शाम को 6 बजे के बाद आसमान से राहत के रूप में बूंदाबांदी हुई। जिससे पारा और नीचे आ गया। वहीं मौसम विभाग ने भी शहरवासियों को राहत देने वाली बात कही है। मौसम विभाग का कहना है कि अब तापमान में अधिक वृद्धि नहीं होगी। और लू भी धीरे-धीरे समाप्त हो जाएगी। हालांकि गर्मी का असर अभी भी बना रहेगा। गुरुवार को शहर में अधिकत तापमान 46 रहा जबकि न्यूनतम तापमान 34.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।
जलदाय विभाग की कार्रवाई, 65 अवैध नल कनेक्शन काटे

बाड़ी शहर में अतिक्रमण अभियान के साथ-साथ अब अवैध नल कनेक्शन के विरुद्ध भी अभियान शुरू कर दिया है। शहर में सुचारू पेयजल व्यवस्था बनाए रखने के लिए अवैध नल कनेक्शन हटाने की कवायद शुरू कर दी है। पीएचईडी ने मंगलवार को भदौरिया पाड़ा में कार्रवाई कर 65 अवैध कनेक्शन काटे। बता दे कि शहर में कई वर्षों के पश्चात जलदाय विभाग ने अवैध कनेक्शनों के खिलाफ एक्शन लिया है। पहली कार्रवाई शहर के भदौरिया पाड़ा में की गई। जहां एक ही दिन में 65 अवैध कनेक्शन को काटा गया। साथ ही उपभोक्ताओं को चेतावनी दी कि वह फिर से गलत कनेक्शन किए तो उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। शहर में लगातार हो रहे फर्जी कनेक्शन की वजह से न केवल बोरिंग की मोटरों पर लोड पड़ रहा है। बल्कि कई-कई घण्टे आपूर्ति देने के बावजूद उपभोक्ताओं तक आपूर्ति नहीं पहुंच रही।
सहायक अभियंता देशराज गुर्जर ने बताया कि कई मोहल्लों से उपभोक्ताओं की लगातार शिकायत मिल रही थी कि उनके घरों तक पानी की आपूर्ति नहीं पहुंच रही। कनिष्ठ अभियंता रवींद्र कुमार ने भदौरिया पाड़ा में जाकर देखा तो अवैध कनेक्शनों की भरमार मिली। उच्च अधिकारियों को मामले से अवगत कराया और कनिष्ठ अभियंता कुमार, अरुण कुमार के नेतृत्व में टीम बनाकर मंगलवार को भदौरिया पाड़ा में कार्रवाई की गई।
असल कम, फर्जी अधिक मिले कनेक्शन

कनिष्ष्ठ अभियंता ने बताया कि भदौरिया पाड़ा मोहल्ले में जलदाय विभाग के मूल कनेक्शन कम फर्जी कनेक्शन अधिक मिले हंै। ऐसे में अन्य कार्मिकों के साथ कार्रवाई करते हुए 65 कनेक्शन को हटाया गया है। सभी लोगों से कहा है कि वे जलदाय विभाग में फाइल लगाकर कनेक्शन लें। कार्रवाई के दौरान जलदाय विभाग मीटर रीडर नेकराम मीना, उमेश शर्मा, राजेंद्र प्रसाद कपरेला, ठेकेदार खेमसिंह मीना समेत अन्य कार्मिक मौजूद रहे।
राज्य सरकार कर्मचारियों को आतंकित करने अभियान चला रही

धौलपुर. राज्य सरकार के मंत्री व अन्य प्रशासनिक अधिकारियों ने प्रदेश के कर्मचारियों को डराने धमकाने तथा प्रताडि़त करने का अभियान चला रखा है। हाल ही में कार्मिक विभाग की ओर से अनिवार्य सेवानिवृत्ति आदेश से देखने को मिला। इस आदेश के जरिए सरकार कर्मचारियों में भय पैदा करना चाहती है। यह बात राजस्थान शिक्षक संघ (शेखावत) के प्रदेश प्रवक्ता यादवेन्द्र शर्मा ने सरकार पर आरोप लगाते हुए कही।
प्रदेशाध्यक्ष महावीर सिहाग एवं महामंत्री उपेंद्र शर्मा ने आरोप लगाया कि सरकार शिक्षा, चिकित्सा तथा जनसेवा की सार्वजनिक संस्थानों का निजीकरण करना चाहती है और सरकारी विभागों का आकार घटाना चाहती है। इन जन विरोधी कार्यों को अंजाम देने के लिए कर्मचारियों को निशाना बनाया जा रहा है। ताकि कर्मचारी संगठित रूप से विरोध नहीं कर सके। कर्मचारी भी आमजन हैं और बांटो तथा राज करो नीति के तहत सरकार आम जन को आपस में बांट देना चाहती है। यदि सरकार इसमें सफल हो गई तो जन सामान्य एक तरफ इन सेवाओं से वंचित हो जाएंगे और ऊंची कीमत पर निजी क्षेत्र से यह सेवाएं खरीदनी पड़ेगी तथा दूसरी तरफ राज्य में लाखों पद समाप्त करके रोजगार के अवसर खत्म कर दिए जाएंगे। इस मौके पर राजस्थान शिक्षक संघ (शेखावत) के जिलाध्यक्ष विशाल गिरी गोस्वामी, जिलामंत्री बृजमोहन शर्मा, सभाध्यक्ष मुन्नालाल उपाध्याय और संयोजक संघर्ष समिति अविनाश अग्रवाल ने राज्य के शिक्षकों व कर्मचारियों से एकजुटता तथा मुखरता से सरकार की इस कर्मचारी विरोधी तथा जन विरोधी मुहिम के खिलाफ आवाज बुलंद करने का आह्वान किया है।

Hindi News/ News Bulletin / धौलपुर: दिनभर भीषण गर्मी के बाद चली धूलभरी हवा, शाम को हल्की बूंदाबांदी ने दी राहत

ट्रेंडिंग वीडियो