scriptबदलते मौसम के कारण उल्टी, दस्त, खांसी, जुकाम व बुखार के रोगी आ रहे सामने | Due to changing weather, patients of vomiting, diarrhea, cough, cold and fever are coming forward | Patrika News
समाचार

बदलते मौसम के कारण उल्टी, दस्त, खांसी, जुकाम व बुखार के रोगी आ रहे सामने

अप्रेल में 58 हजार के पार हुई ओपीडी की संख्या

हनुमानगढ़May 08, 2024 / 08:08 pm

Anurag thareja

अप्रेल में 58 हजार के पार हुई ओपीडी की संख्या

अप्रेल में 58 हजार के पार हुई ओपीडी की संख्या

अप्रेल में 58 हजार के पार हुई ओपीडी की संख्या – अप्रेल 2023 में 50 हजार के करीब रोगियों ने लिया था परामर्श हनुमानगढ़. बढ़ती गर्मी के कारण जिला अस्पताल में रोगियों की तदाद बढऩे लगी है। सबसे ज्यादा बच्चे बीमार हो रहे हैं। खांसी, बुखार, उल्टी व दस्त की शिकायत बच्चों में देखने को मिल रही है। जिला अस्पताल के चिकित्सकों के अनुसार गत वर्ष की तुलना में अप्रेल 2024 में ओपीडी की संख्या 58 हजार के पार पहुंच चुकी है। जबकि 2023 अप्रेल में ओपीडी की संख्या 50 हजार के करीब थी। गत अप्रेल में बच्चों के बीमार होने के मामले सामने आए थे। यह स्थिति मई में है। बच्चा वार्ड में उल्टी, दस्त के रोगियों की संख्या अधिक है। बढ़ती गर्मीं के कारण ठंडी वस्तुओं का सेवन अत्यधिक करने व दिन में कूलर व एसी के दौरान बार-बार अन्दर-बाहर होने के कारण भी बच्चे बीमार हो रहे हैं। जनवरी 2024 में 38722 ओपीडी रही थी, फरवरी 2023 में 45268, मार्च में 48920, अप्रेल में 58109 ओपीडी रही।
अप्रेल में 58109 ओपीडी रही।

अप्रेल 2023 में ओपीडी की संख्या 48790 के करीब थी। जुलाई 2023 में ओपीडी की संख्या 44831 रही थी। इनमें से अधिकांश रोगी खांसी, जुकाम व बुखार के हैं। इस बार अप्रेल में ओपीडी की संख्या 58 हजार के करीब पहुंच गई। जिला अस्पताल के चिकित्सकों की माने तो वायरल के रोगी सबसे अधिक आ रहे हैं। हालांकि रिकवरी रेट भी अच्छा है। पांच दिन की दवा लेने से रोगी ठीक हो रहे हैं। लेकिन जो रोगी चिकित्सक की सलाह लेने की बजाए, आस-पड़ोस से दवा ले रहे हैं, ऐसे रोगियों का बुखार ठीक होने में आठ से दस दिन लग रहे हैं। यह बरतनी चाहिए सावधानी बार-बार बदलते मौसम के कारण फ्रिज में रखा पानी, दूध या दही का सेवन नहीं करें। मटके का पानी बार-बार पीएं। रात के समय दूध को गुनगना कर पीएं। दिन में अत्यधिक गर्मी होने के कारण लोगबाग रात को ठंडा दूध पीते हैं। जो कि सेहत के लिए अच्छा नहीं है। प्लेटलेट्स की कमी वहीं चिकित्सकों की माने तो डेंगू के रोगी सामने नहीं आ रहे। लेकिन प्लेटलेट्स से संबंधित कई रोगी सामने आए हैं। मौसम में बदलाव होने के कारण बुखार व वायरल के रोगी हैं। जिन घरों में बुखार व वायरल का रोगी है। इन रोगियों के चेहरे में सूजन जैसी समस्या देखने को मिल रही है। इस तरह के रोगी के स्वस्थ होने पर आठ से दस दिन लग रहे हैं। ठंडी वस्तुओं का सेवन नहीं करें जिला अस्पताल में बच्चों में उल्टी, दस्त, बुखार और जुकाम के केस काफी आ रहे हैं। अत्यधिक गर्मी के कारण बच्चे ठंडे वस्तुओं का सेवन कर रहे हैं जिससे बीमार हो रहे हैं। गर्मी में बच्चों को बाहर नहीं निकलने दे और घरों में एसी चलने पर बच्चों को कमरे में रहने की सलाह दें। डॉ. सुमेश खीचड़, पीडियाट्रिक, एमजीएम अस्पताल।

Hindi News/ News Bulletin / बदलते मौसम के कारण उल्टी, दस्त, खांसी, जुकाम व बुखार के रोगी आ रहे सामने

ट्रेंडिंग वीडियो