scriptअनूपपुर में हाथियों का उत्पात, जिस रास्ते से आए, उसी रास्ते वापसी की बनाई जाएगी कार्ययोजना | Patrika News
समाचार

अनूपपुर में हाथियों का उत्पात, जिस रास्ते से आए, उसी रास्ते वापसी की बनाई जाएगी कार्ययोजना

अनूपपुर. वन परिक्षेत्र जैतहरी के बीट गोबरी के कक्ष क्रमांक 302 में विगत कई दिनों से दो हाथियों का मूवमेेट बना हुआ है। ग्रामीणों के खेतों तथा घरों में रखे अनाज, सब्जियां एवं अन्य खाद्यान्न को अपना ग्रास बनाने हुए रहवासो को नुकसान पहुंचा रहे हंै। जंगली हाथियों के ठहराव से जहां ग्रामीण परेशान हैं […]

अनूपपुरJun 24, 2024 / 11:58 am

Sandeep Tiwari

अनूपपुर. वन परिक्षेत्र जैतहरी के बीट गोबरी के कक्ष क्रमांक 302 में विगत कई दिनों से दो हाथियों का मूवमेेट बना हुआ है। ग्रामीणों के खेतों तथा घरों में रखे अनाज, सब्जियां एवं अन्य खाद्यान्न को अपना ग्रास बनाने हुए रहवासो को नुकसान पहुंचा रहे हंै। जंगली हाथियों के ठहराव से जहां ग्रामीण परेशान हैं वहीं विभागीय अमला निरंतर निगरानी में लगा हुआ है। कलेक्टर आशीष वशिष्ठ, पुलिस अधीक्षक जितेन्द्र सिंह पवार, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी तन्मय वशिष्ठ शर्मा ने वन क्षेत्र गोबरी का जायजा लिया। इस दौरान पुष्पराजगढ़ विधानसभा क्षेत्र के विधायक फुन्देलाल सिंह भी उपस्थित रहे। उन्होंने ग्रामीणों से चर्चा करते हुए सुरक्षात्मक सावधानियां बरतने की अपील की। कलेक्टर ने वन अधिकारियों को जंगली हाथी जिस मार्ग से आए हैं उसी मार्ग से वापसी के लिए रूपरेखा तैयार करने संबंधी कार्रवाई सुनिश्चित करने के निर्देश दिए उन्होंने कहा कि जंगली हाथियों के विचरण की निगरानी के लिए ड्रोन कैमरे की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। उन्होंने कहा कि जंगली हाथियों की वापसी के लिए अनुभवी वन अधिकारियों का मार्गदर्शन लेकर प्रभावी कार्रवाई की जाए जिससे जंगली हाथियों के बार-बार विचरण से हो रहे नुकसान से ग्रामीणों को राहत मिलने के साथ ही शांतिपूर्ण जीवन यापन भी सुनिश्चित हो सके। उन्होंने वन विभाग के अधिकारियों को ग्रामीणों से चर्चा कर सहयोग प्राप्त करने के भी निर्देश दिए।
डोरी बीनने गए ग्रामीण पर भालू ने किया हमला

अनूपपुर. नगर परिषद डूमरकछार से लगे जंगल में अपने एक साथी के साथ डोरी बीनने गए 45 वर्षीय ग्रामीण पर भालू ने हमला कर घायल कर दिया। घायल को वनविभाग के कर्मचारियों ने बिजुरी अस्पताल में भर्ती कराया। प्रारंभिक उपचार के बाद बेहतर उपचार के लिए जिला चिकित्सालय लाया गया, जहां उपचार जारी है। कोतमा रेंज अंतर्गत टंकी पूर्व बीट के जंगल में शनिवार को 45 वर्षीय बुद्धू बैगा पिता गोविंद बैगा अपने साथी संतराम बैगा के साथ डोरी बीनने के लिए गया था। इस दौरान भालू ने ग्रामीणों को दौड़ाते हुए हमला कर घायल कर दिया। आंख के ऊपर एवं सिर के पास गंभीर चोट आयी है।

Hindi News/ News Bulletin / अनूपपुर में हाथियों का उत्पात, जिस रास्ते से आए, उसी रास्ते वापसी की बनाई जाएगी कार्ययोजना

ट्रेंडिंग वीडियो