कर्मचारियों की मनमानी से किसानों को हो रही परेशानी

कर्मचारियों की मनमानी से किसानों को हो रही परेशानी
कर्मचारी अक्सर हस्ताक्षर करके डयूटी टाइम में सेवा से गायब रहता है

Ajay Khare | Publish: Mar, 21 2018 05:32:06 PM (IST) ख़बरें सुनें

मंडी में जमकर चल रही मनमानी, हस्ताक्षर करके गायब हो जाते हैं कर्मचारी

गाडरवारा। एकओर सरकार द्वारा किसानों के हित में अनेक प्रकार की योजनाएं चलाई जा रही हैं। आने वाले दिनों में सरकार द्वारा किसान सम्मानयात्रा निकाली जा रही है। सरकार हर प्रकार से किसानों के हित में योजनाएं चलाकर खेती को लाभ का धंधा बनाने का प्रयास किया जा रहा है। वहीं दूसरी ओर किसानों के मंडियों में जमकर परेशान होना पड़ता है। जहां बीते दिनों किसानों को भावांतर एवं गेहूं के पंजीयन में जमकर परेशान होना पड़ा। इसी तर्ज पर मंडी में आवश्यक सुविधाओं के लिए भी किसानों को भटकना एवं कर्मचारियों का इंतजार करना पड़ता है। मंगलवार को मंडी के अनाज ग्रेडिंग केंद्र पर जब अनेक किसान ग्रेडिंग कराने पहुंचे तो यहां का कर्मचारी ग्रेडिंग क्लीनर सोबरन सोनी नदारद दिखा। किसानों द्वारा परेशानी बताए जाने, ग्रेडिंग केंद्र का जायजा लेने पर वहां मौजूद अन्य कर्मचारी ने बताया कि वह यहीं कहीं होंगे। वहीं उपस्थिति रजिस्टर देखने पर उक्त कर्मचारी के हस्ताक्षर किए गए हैं। किसानों एवं अन्य कर्मचारियों ने बताया कि उक्त कर्मचारी अक्सर हस्ताक्षर करके डयूटी टाइम में सेवा से गायब रहता है। मंगलवार को जब किसान उक्त कर्मचारी को तलाश कर रहे थे उसी दौरान वह एक निजी कम्प्यूटर सेंटर में बैठकर डयूटी टाईम में अपना निजी काम कर रहा था। जबकि यह लंच टाइम भी नहीं था। इस प्रकार डयूटी के समय मंडी के अधिकारी, कर्मचारियों के गायब होने से किसानों को आए दिन परेशान होना पड़ता है। कभी मंडी के शेड से अनाज की चोरी हो जाती है तो कभी किसान कर्मचारी न होने से अपने कामकाज के लिए भटकने मजबूर होते हैं। किसानों ने मंडी प्रबंधन से ऐसे गैर जिम्मेदार कर्मचारियों के विरुद्ध कार्रवाई की मांग की है, ताकि किसानों को भटकने मजबूर न होना पड़े।
पत्रिका प्रतिनिधि द्वारा किसानों की मांग पर जब मंडी कर्मचारी सोनी से बात की गई तो उन्होंने बताया कि वह प्रांगण में ही हैं। लेकिन जब यह बताया कि आप एक कम्प्यूटर सेंटर में बैठे हैं तो वह सकपका गया।
इनका कहना
यदि कोई कर्मचारी ऐसा कर रहे हैं तो दिखवा कर कार्रवाई की जाएगी।
एके दुबे, मंडी सचिव गाडरवारा

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned