scriptआंदोलनकारियों पर हमले की आंशका, प्रशासन पर अनदेखी का आरोप | जिंदल की ब्लास्टिंग के विरोध में जालिया में दसवें दिन जारी रहा धरना | Patrika News
समाचार

आंदोलनकारियों पर हमले की आंशका, प्रशासन पर अनदेखी का आरोप

जिंदल की ब्लास्टिंग के विरोध में जालिया में दसवें दिन जारी रहा धरना

भीलवाड़ाJun 25, 2024 / 11:16 am

Suresh Jain

जिंदल की ब्लास्टिंग के विरोध में जालिया में दसवें दिन जारी रहा धरना

जिंदल की ब्लास्टिंग के विरोध में जालिया में दसवें दिन जारी रहा धरना

भीलवाड़ा जिले के बनेड़ा क्षेत्र स्थित जिंदल सॉ लिमिटेड के खनन क्षेत्र जालिया के ग्रामीणों ने रात में हमले की आंशका जताई। लोगों ने जिला प्रशासन से कार्रवाई की मांग की। ग्रामीणों का कहना है कि प्रशासन उनकी सुनवाई नहीं कर रहा है। वही शाहपुरा विधायक लालाराम बैरवा ने भी लोगों की पीड़ा सुनी लेकिन ठोस कदम नहीं उठाया है।
जिंदल सॉ की ओर से बनेड़ा क्षेत्र स्थित लापिया-जालिया खनन क्षेत्र में अवैध ब्लास्टिंग के विरोध में ग्रामीणों का धरना-प्रदर्शन दसवें दिन भी जारी रहा। जालियां के मुकेश रैबारी ने बताया कि रात्रि में धरना स्थल पर लोग सो रहे थे। रात एक बजे कुछ लोग हमले की नीयत से वहां आए, लेकिन महिलाओं के जागने तथा सभी लोगों को उठने के बाद अज्ञात लोग वहां से भाग गए। ग्रामीणों ने पीछा किया लेकिन अंधेरे का फायदा उठाकर भाग निकले।
माली सैनी महासभा प्रदेश संगठन मंत्री कन्हैयालाल माली ने बताया कि प्रशासन को इस घटना के बारे में बता दिया लेकिन कार्रवाई नहीं की गई। इस कारण रात में कुछ लोग खनन क्षेत्र व धरना स्थल के आसपास घूमते रहते हैं। इससे महिलाओं को जान का खतरा है। माली ने बताया कि शनिवार को विधायक बैरवा जालिया आए थे। उनको भी पूरे घटनाक्रम की जानकारी दी। ग्रामीणों की सुरक्षा तथा अवैध ब्लास्टिंग को रूकवाने की मांग की थी।

Hindi News/ News Bulletin / आंदोलनकारियों पर हमले की आंशका, प्रशासन पर अनदेखी का आरोप

ट्रेंडिंग वीडियो