scriptपाकिस्तान से फिर आई साठ करोड़ रुपए की हेरोइन खेप | Patrika News
समाचार

पाकिस्तान से फिर आई साठ करोड़ रुपए की हेरोइन खेप

– बीएसएफ ने की तीस राउंड फायरिंग फिर भी बच निकला ड्रोन
पाकिस्तान से फिर आई साठ करोड़ रुपए की हेरोइन खेप

श्री गंगानगरJun 16, 2024 / 11:47 pm

surender ojha

श्रीगंगानगर। अनूपगढ़ और रायसिंहनगर से सटी भारत-पाक अंतरराष्ट्रीय सीमा पर ड्रोन के जरिए हेरोइन तस्करी की दो घटनाएं हुई हैं। इन दोनों घटनाओं में सीमा पार पाकिस्तान से आए ड्रोन ने बारह किलो हेरोइन के पैकेट गिराए और वापस चले गए। हेरोइन की यह खेप अन्तराष्ट्रीय बाजार में कीमत करीब साठ करोड़ रुपए की आंकी गई है। खुफिया जांच एजेसियों को इस खेप आने की सूचना तक नहीं ​मिली। अनूपगढ़ क्षेत्र में बीएसएफ की कैलाश सीमा चौकी के इलाके में पाकिस्तानी ड्रोन भारतीय सीमा में तीन किलोमीटर अंदर घुस कर हेरोइन के पैकेट गिरा कर लौट गया। ड्रोन को गिराने के लिए बीएसएफ के जवानों ने 25-30 राउंड फायर भी किए। इसके बाद चलाए गए सर्च ऑपरेशन में बीएसएफ को सीमावर्ती गांव 13 केके के एक खेत में पीले रंग के दो पैकेट में छह किलो हेरोइन मिली।

यहां तस्करों ने की हवाई फायरिंग

दूसरी घटना रायसिंहनगर क्षेत्र के सीमावर्ती गांव 44 पीएस बरूवाला की है, जहां ड्रोन की आवाज सुन सजग हुए ग्रामीणों ने कार में सवार होकर हेरोइन की डिलीवरी लेने आए तस्करों को पकड़ने का प्रयास किया तो वह हवाई फायर करते हुए फरार हो गए। ग्रामीणों से घटना की जानकारी मिलने पर पुलिस व बीएसएफ ने रात में ही सर्च ऑपरेशन चलाया तो गांव के पास ही पीले रंग के दो पैकेट में बंद छह किलो हेरोइन मिली। दोनों घटनाओं में बरामद 12 किलो हेरोइन की अंतरराष्ट्रीय बाजार में कीमत 60 करोड़ रुपए बताई गई है।एक घटना में तस्कर हवाई फायर कर फरार, दूसरी में तस्करों का पता नहीं चला।

भारतीय सीमा में अंदर घुस कर गिराए पैकेट

रायसिंहनगर क्षेत्र में भारत-पाक अन्तरराष्ट्रीय सीमा पर ड्रोन के जरिए हेरोइन तस्करी की घटनाएं थम नहीं रही। सीमा पार से सीमावर्ती गांव 44 पीएस बरूवाला के एक खेत में रात ड्रोन से गिराई गई हेरोइन की डिलीवरी लेने पहुंचे तस्करों को ग्रामीणों ने पकड़ने का प्रयास किया तो वे फायरिंग करते हुए फरार हो गए। ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस व बीएसएफ की टीम मौके पर पहुंची और सर्च ऑपरेशन चलाया। इस ऑपरेशन में छह किलो हेरोइन बरामद हुई, जिसकी अंतरराष्ट्रीय बाजार में कीमत 30 करोड़ रुपए बताई गई है।

ग्रामीणों को ड्रोन की लगी भनक

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार शनिवार मध्य रात्रि गांव 44 पीएस के पास ग्रामीणों को ड्रोन के माध्यम से हेरोइन तस्करी की भनक लगी। हेरोइन की डिलीवरी लेने कार में सवार होकर आए तस्करों को भी गांव वालों ने देख लिया। ग्रामीणों ने तस्करों को रोकने का प्रयास किया तो वे हवाई फायर कर मौके से फरार होने में कामयाब रहे। इसके बाद ग्रामीणों ने घटना की सूचना बीएसएफ व पुलिस को दी। इस पर समेजा कोेठी थाना प्रभारी विकास बिश्नोई व बीएसएफ के अधिकारियों के नेतृत्व में संयुक्त सर्च ऑपरेशन चलाया तथा मुख्य मार्गों पर नाकाबंदी की गई। सर्च ऑपरेशन के दौरान पुलिस ने दो पैकेट में छह किलो हेरोइन बरामद की। हेरोइन तस्करी की सूचना मिलने पर पुलिस अधीक्षक रमेश मौर्य व पुलिस उप अधीक्षक भंवरलाल मौके पर पहुंचे और घटनास्थल का निरीक्षण किया।

तब छह किलो हेरोइन की थी बरामद

समेजा कोठी थाना क्षेत्र में गत सप्ताह 9 जून व 10 जून को पुलिस व एसओजी ने संयुक्त रूप से अलग-अलग कार्रवाई कर छह किलो हेरोइन बरामद कर चार तस्करों को गिरफ्तार किया, जिनमें एक महिला भी शामिल है।

ड्रोन लौटते समय बीएसएफ ने की फायरिंग

इधर, कैलाश सीमा चौकी इलाके में पाकिस्तानी ड्रोन भारतीय सीमा के 3 किलोमीटर अंदर तक आकर हेरोइन के पैकेट गिरा कर लौट गया। ऐसा माना जा रहा है कि ड्रोन के लौटते समय बीएसएफ के जवानों को उसकी आवाज सुनाई दी, जिस पर जवानों ने 25-30 राउंड फायरिंग की। इस घटना के तुरंत बाद सीमा क्षेत्र में सर्च ऑपरेशन चलाया गया तो अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास दो पैकेट में 6 किलो हेरोइन मिल गई। पुलिस अधीक्षक रमेश मौर्य ने बताया कि शनिवार तड़के पौने चार बजे पाकिस्तान की ओर से आए ड्रोन ने हेरोइन के दो पैकेट गिराए। ड्रोन की आवाज सुनाई देने पर बीएसएफ के जवानों ने उसी दिशा में फायरिंग की।

तस्करों का नहीं मिला सुराग

बीएसएफ की सूचना के आधार पर मौके पर पुलिस दल को भी भेजा गया। उसके बाद हेरोइन तस्करी की आशंका के मद्देनजर बीएसएफ और पुलिस ने सर्च ऑपरेशन चलाया तो गांव 13 केके के एक खेत से दो पैकेट मिले। तलाशी लेने पर दोनों पैकेट्स में मादक पदार्थ पाए गए। बीएसएफ जवानों की फायरिंग से ड्रोन के गिरने की संभावना को देखते हुए पूरे इलाके में एक बार फिर सर्च ऑपरेशन चलाया गया लेकिन ड्रोन नहीं मिला। संभवत: वह सुरक्षित लौट गया। घटना के बाद इलाके में नाकाबंदी करवा कर वाहनों की जांच की गई लेकिन डिलीवरी लेने वाले तस्करों का सुराग नहीं मिला। बरामद हुई हेरोइन की अंतरराष्ट्रीय बाजार में कीमत 30 करोड़ रुपए आंकी गई हैं। इसे एनसीबी को सौंपा जाएगा।

Hindi News/ News Bulletin / पाकिस्तान से फिर आई साठ करोड़ रुपए की हेरोइन खेप

ट्रेंडिंग वीडियो