scriptभीलवा़ड़ा शहर में तीन वर्ष में 9295 लोगों को काट चुके श्वान | भीलवाड़ा नगर परिषद नहीं कर रही श्वानों का बधियाकरण | Patrika News
समाचार

भीलवा़ड़ा शहर में तीन वर्ष में 9295 लोगों को काट चुके श्वान

भीलवाड़ा नगर परिषद नहीं कर रही श्वानों का बधियाकरण

भीलवाड़ाJun 16, 2024 / 12:14 pm

Suresh Jain

भीलवाड़ा नगर परिषद नहीं कर रही श्वानों का बधियाकरण

भीलवाड़ा नगर परिषद नहीं कर रही श्वानों का बधियाकरण

भीलवाड़ा शहर में आवारा श्वानों का आतंक है।पिछले तीन साल में 9295 लोगों को श्वान काट चुके। हालांकि नगर परिषद श्वानों को पकड़ने में रूचि नहीं दिखा रही। गांधीनगर जैसे इलाकों में कई लोग अपने घरों में आवारा श्वान रखते हैं, जो शाम को झूंड में सड़क पर बैठे नजर आते हैं।
पर्यावरणविद् बाबूलाल जाजू ने बताया कि सर्वोच्च न्यायालय के निर्देश एवं एनिमल बर्थ कंट्रोल रूल्स 2001 के तहत श्वानों का बधियाकरण नहीं होने से श्वान बढ़े। वर्ष 2020 में जुलाई से दिसंबर तक 1285, वर्ष 2021 में 2403, वर्ष 2022 में 2821 व वर्ष 2023 में जनवरी से अक्टूबर तक 2786 लोगों को श्वानों के काटने से एंटीरेबिज इंजेक्शन लगाए गए।
जाजू ने बताया कि परिषद ने आवारा श्वान पकड़ने, बधियाकरण एवं रेबीज टीकाकरण के लिए 2 करोड़ रुपए का प्रस्ताव लिया, लेकिन कार्य शुरू नहीं हो सका है। जाजू ने जिला कलक्टर नमित मेहता व परिषद आयुक्त हेमाराम चौधरी से कुत्तों का बधियाकरण की मांग की है।

Hindi News/ News Bulletin / भीलवा़ड़ा शहर में तीन वर्ष में 9295 लोगों को काट चुके श्वान

ट्रेंडिंग वीडियो