scriptMP POLICE: पुलिस की मददगार बनी ‘थर्ड आई’, हिरासत में अंतर्राज्यीय चोर गिरोह | MP POLICE: 'Third Eye' becomes helpful to police, interstate thief gang in custody | Patrika News
समाचार

MP POLICE: पुलिस की मददगार बनी ‘थर्ड आई’, हिरासत में अंतर्राज्यीय चोर गिरोह

कुंडीपूरा पुलिस की कामयाबी, सीसीटीवी फुटेज ने की सहायता

छिंदवाड़ाJun 27, 2024 / 12:20 pm

ashish mishra

छिंदवाड़ा. कुंडीपूरा थाना पुलिस ने ऑपरेशन ‘थर्ड आई’ की सहायता से अंतर्राज्यीय वाहन चोर को पकडऩे में सफलता हासिल की है। बुधवार को एसपी मनीष खत्री ने मामले का खुलासा किया। बताया कि बीते 20 जून की रात इसरा उमरिया में गनाराम कहार के घर के सामने, सिवनी रोड के पास एक पिकअप वाहन एवं मशीन अज्ञात ने चोरी कर ली। पुलिस ने पीडि़त की शिकायत पर मामला दर्ज किया और जांच शुरु की। विवेचना के दौरान घटनास्थल के आसपास सीसीटीवी फुटेज खंगाला गया। खवासा टोल नाके पर लगे सीसीटीवी कैमरे में संदेही की फोटो प्राप्त होने पर जांच की गई। साइबर सेल एवं मुखबिर सूचना तंत्र के माध्यम से संदेही की पहचान सिवनी जिले के कुरईथाना के चिखला निवासी 27 वर्षीय रामप्रसाद पिता रिक्खीराम के रूप में हुई। संदेही को महाराष्ट्र के नागपुर से दबोचा गया और पूछताछ की गई। जिसमें उनसे अपने भाई 35 वर्षीय सुनील राय के साथ पिकअप वाहन चोरी करना कबूल किया। पुलिस ने आरोपियों के पास से चोरी की गई पिकअप, मशीन सहित 20 लाख 65 हजार रुपए का चोरी सामान जब्त किया। आरोपियों ने छिंदवाड़ा जिले के विभिन्न थाना क्षेत्र, महाराष्ट्र के नागपुर में कई चोरी करने की बात कबूली। उसने पुलिस को बताया कि महाराष्ट्र में चुराए गए एक वाहन को उसने नागपुर में सरदार शाह नाम के कबाड़ी के दुकान में ले जाकर काटकर बेच दी थी। आरोपियों के सिवनी जिले में भी कई आपराधिक रिकॉर्ड दर्ज हैं। एसपी ने मामले का खुलासा करने पर पुलिस टीम को 10 हजार रुपए का पुरस्कार देने की घोषणा की। टीम में कुंडीपूरा थाना प्रभारी मनोज बघेल, उप निरीक्षक धर्मेन्द्र कुशराम, प्र.आर. संतोष बघेल, शिवराम उइके, आर जीवन रघुवंशी, करण रघुवंशी, गौरव देवलिया, साइबर सेल से आदित्य रघुवंशी, राहुल शामिल रहे।
एसपी ने की सीसीटीवी लगाने की अपील
एसपी मनीष खत्री ने बताया कि अपराधों के खुलासा करने में सीसीटीवी फुटेज बहुत मददगार साबित हो रही है। उन्होंने लोगों से अपील की कि सभी लोग अपने घरों के बाहर सीसीटीवी जरूर लगाएं। इससे सुरक्षा भी होगी और अपराधियों के धड़पकड़ में मदद मिलेगी। इसके अलावा कोई संदेही दिखाई दे तो तत्काल पुलिस को सूचना दें।

Hindi News/ News Bulletin / MP POLICE: पुलिस की मददगार बनी ‘थर्ड आई’, हिरासत में अंतर्राज्यीय चोर गिरोह

ट्रेंडिंग वीडियो