scriptअधूरी तैयारियों के बीच शुरू होगा प्रवेशोत्सव | Patrika News
समाचार

अधूरी तैयारियों के बीच शुरू होगा प्रवेशोत्सव

हनुमान सागर प्राथमिक स्कूल।

टीकमगढ़Jun 17, 2024 / 07:48 pm

akhilesh lodhi

हनुमान सागर प्राथमिक स्कूल।

हनुमान सागर प्राथमिक स्कूल।

शिक्षक, बिजली, पानी विहीन शाला में छात्रों को होगी परशानी

टीकमगढ़. शासन द्वारा स्कूलों की व्यवस्थाएं सुधारने के कितने भी दावें क्यों न किए जा रहे हो, लेकिन हकीकत इससे अलग हैं। एक बार फि र से पानी विहीन, शिक्षकों की कमी, बिना बिजली व्यवस्था एवं खंडहर भवनों के नवीन शिक्षण सत्र का आगाज होगा। शिक्षा विभाग एक बार फि र से स्कूल चलें हम और प्रवेशोत्सव के माध्यम से नवीन शिक्षण सत्र शुरू करने को तैयार हैं, लेकिन इन अव्यवस्थाओं पर किसी का ध्यान नही हैं।
टीकमगढ़ और निवाड़ी जिले में आज मंगलवार से प्रवेशोत्सव मनाया जाएगा। यहां के २२४५ में से २८० जर्जर, १३३ में बिजली और ६५ फीसदी के करीब स्कूलों में पानी सुविधा नहीं हैं। जबकि शासन द्वारा पेयजल के लिए हैंडपंप, बोर खनन, और नल जल योजना की लाइन के साथ पानी की टंकी रखी गई हैं। लेकिन उसकी देखरेख नहीं होने से व्यवस्थाएं चौपट हो गई हैं। इसी व्यवस्था के बीच आज मंगलवार को प्रवेशोत्सव मनाया जाएगा।
प्रत्येक विद्यालयों में यह हुई थी व्यवस्था, अब ६५ फीसदी पानी विहीन
टीकमगढ़ के १६४५ प्राथमिक और माध्यमिक विद्यालय और निवाड़ी के ६३० प्राथमिक और माध्यमिक विद्यालयों में शासन द्वारा पेयजल योजना के तहत पानी की टंकी, बोर खनन, हैंडपंप खनन और पाइप लाइन बिछाई गई थी। अब वहां के जल स्रोतों खत्म हो गए हैं। विभाग अनुसार फरवरी महीने में दोनों जिलों के ६५ स्कूलों में पानी नहीं था। अब भीषण गर्मी का सीजन और गहराए जलसंकट की स्थिति अलग हैं।
जल जीवव मिशन के तहत पहुंची पाइप लाइन, बनी शो पीस
जिले के सभी प्राथमिक और माध्यमिक स्कूलों में जल जीवन मिशन के तहत बोर खनन करके लोहे की पाइप लाइन बिछाई गई है। स्कूल भवन के ऊपर पानी की टंकी रखी गई हंै, लेकिन वह आज शो पीस बनी हंै। कई स्थानों के पाइप गायब हो गए हैं और कही की टंकी फूट गई हैं।
१३३ स्कूलों में नहीं है बिजली
टीकमगढ़ जिले के १३३ स्कूल बिजली विहीन हैं। इनमें बिजली व्यवस्था करने के लिए जिला पंचायत की बैठक में मुद्दा उठा था। यही हाल निवाड़ी जिले के स्कूलों का हैं। प्रवेश के बाद कक्षाएं संचालित की जाएगी। जहां छात्रों को भीषण गर्मी और उसम में परेशानियों का सामना करना पड़ेगा। हालांकि विधानसभा और लोकसभा चुनाव के दौरान बिजली व्यवस्थाएं हुई, लेकिन अब हालात जस के तस हैं।
टीकमगढ़ में २०० और निवाड़ी में ८० स्कूल जर्जर
टीकमगढ़ जिले में प्राथमिक, माध्यमिक स्कूल १५९२ और निवाड़ी में ६३० हैं। यहां पर २० प्रतिशत से अधिक स्कूल जर्जर हंै। टीकमगढ़ में २०० और निवाड़ी जिले में ८० से अधिक स्कूलों की हालत खराब हैं। इन सबका आंकड़ा विभाग के पास रखा हैं। इन भवनों में बैठने वाले छात्रों को बारिश के समय परेशान होना पड़ेगा।
फैक्ट फाइल
१६४५- टीकमगढ़ जिले में प्राथमिक और माध्यमिक विद्यालय
१२११- जिले में प्राथमिक विद्यालय
४३४- जिले माध्यमिक विद्यालय

६२०- निवाड़ी जिले में प्राथमिक और माध्यमिक विद्यालय
४६४- जिले में प्राथमिक विद्यालय
१६६- जिले माध्यमिक विद्यालय

इनका कहना
ंप्रवेश उत्सव की तैयारियां की जा रही हैं। पेयजल के लिए मटका रखवाने के निर्देश दिए गए हैं। जिन स्कूलों में बिजली नहीं हैं वहां पर छात्रों को परेशानियां आएंगी। बिजली कनेक्शन करवाने, जहां कनेक्शन हैं, वहां पर केबल बिछाने की बात कही हैं। छतों की मरम्मत करवाने के प्रस्ताव भोपाल भेज दिए हैं। स्कूलों की व्यवस्थाओं का ध्यान रखा जा रहा हैं।
पीआर त्रिपाठी, सर्व शिक्षा अभियान डीपीसी टीकमगढ़।

Hindi News/ News Bulletin / अधूरी तैयारियों के बीच शुरू होगा प्रवेशोत्सव

ट्रेंडिंग वीडियो