स्टेच्यू ऑफ यूनिटी देखने पहुंचे स्टूडेंट्स

स्टेच्यू ऑफ यूनिटी देखने पहुंचे स्टूडेंट्स

Arjun Richhariya | Publish: Dec, 15 2018 05:53:26 PM (IST) | Updated: Dec, 15 2018 06:21:05 PM (IST) ख़बरें सुनें

स्टडी टूर में सरदार वल्लभ भाई पटेल के बारे में हासिल की जानकारी

आलीराजपुर. स्थानीय पटेल पब्लिक स्कूल के विद्यार्थी एक दिवसीय शैक्षणिक यात्रा के लिए गुजरात के नर्मदानगर जिले में स्थित ‘स्टेच्यू ऑफ यूनिटी’ सरदार सरोवर बांध को देखने पहुंचे।
विद्यालय के कक्षा 5वीं से कक्षा 8वीं तक के विद्यार्थियों के लिए यात्रा का आयोजन किया गया था। इसमें 97 विद्यार्थी एवं 22 शिक्षकों का दल सम्मिलित था। इस यात्रा में विद्यार्थियों ने सरदार वल्लभ भाई पटेल (स्वतंत्र भारत के प्रथम गृहमंत्री) के व्यक्तित्व एवं उनके योगदान एवं उनकी लौहपुरुष की छवि के बारे में शिक्षकों से जानकारी प्राप्त की। इस अध्ययन यात्रा की समाप्ति के पश्चात विद्यालय के चेयरमेन महेश पटेल, नपा अध्यक्ष सेना पटेल, प्राचार्य कृष्णचंद्र उपाध्याय ने विद्यार्थियों एवं पालकों को बधाई देते हुए भविष्य में भी इस तरह की ज्ञानवर्धक व ऐतिहासिक स्थलों की यात्रा निरंतर करते रहने की सलाह दी।
ये है ‘स्टेच्यू ऑफ यूनिटी’
स्वतंत्र भारत के पहले गृहमंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल का स्मारक है ‘स्टेच्यू ऑफ यूनिटी’ । गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी ने 31 अक्टूबर 2013 को सरदार पटेल की जयंती पर इस इसके निर्माण का शिलान्यास किया था। यह स्मारक सरदार सरोवर बांध से करीब सवा तीन किलोमीटर दूरी पर साधू बेट स्थान पर है। यह नर्मदा नदी का एक टापू है, जो भरुच के निकट नर्मदा जिले में है। इसके निर्माण की बोली लार्सन एंड टूब्रो कंपनी ने 2989 करोड़ लगाई जिसमें आकृति, निर्माण और इसका रखरखाव शामिल था। 31 अक्टूबर 2018 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सरदार पटेल के जन्मदिन पर इसका लोकार्पण किया।
विश्व की सबसे ऊंची मूर्ति
‘स्टेच्यू ऑफ यूनिटी’ विश्व की सबसे ऊंची मूर्ति है। इसकी लंबाई 182 मीटर (597 फीट) है। इसके बाद विश्व की दूसरी सबसे ऊंची मूर्ति चीन में स्प्रिंग टेंपल बुद्ध है।

क्यों कहते हैं ‘सरदार’ और ‘लौह पुरुष’
बारडोली सत्याग्रह का नेतृत्व कर रहे वल्लभ भाई पटेल को सत्याग्रह की सफलता पर वहां की महिलाओं ने सरदार की उपाधि प्रदान की। आजादी के बाद विभिन्न रियासतों में बिखरे भारत के भू-राजनीतिक एकीकरण में केंद्रीय भूमिका निभाने के लिए पटेल को लौह पुरुष भी कहा जाता है

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned