scriptउपखंड अधिकारी फिर पहुंचे जालिया, ग्रामीणों ने कहा-हमें नहीं चाहिए जिंदल | जिंदल की अवैध ब्लास्टिंग के विरोध में जालिया में 11वें दिन जारी रहा धरना | Patrika News
समाचार

उपखंड अधिकारी फिर पहुंचे जालिया, ग्रामीणों ने कहा-हमें नहीं चाहिए जिंदल

जिंदल की अवैध ब्लास्टिंग के विरोध में जालिया में 11वें दिन जारी रहा धरना

भीलवाड़ाJun 26, 2024 / 11:19 am

Suresh Jain

जिंदल की अवैध ब्लास्टिंग के विरोध में जालिया में 11वें दिन जारी रहा धरना

जिंदल की अवैध ब्लास्टिंग के विरोध में जालिया में 11वें दिन जारी रहा धरना

भीलवाड़ा के उपखंड अधिकारी, मांडल की डिप्टी, सीआई समेत पुलिस जाप्ता मंगलवार को बनेड़ा क्षेत्र स्थित जिंदल सॉ लिमिटेड के खनन क्षेत्र जालिया में धरना दे रहे ग्रामीणों से फिर मिले। प्रशासन ने ग्रामीणों से जानकारी चाही कि आखिर क्या समस्या है। ग्रामीणों ने एकसुर में कहा कि हमें यहां जिंदल की अवैध ब्लास्टिंग नहीं चाहिए। ब्लास्टिंग के कारण घरों में दरारें आ गई है। कभी भी किसी की जान भी जा सकती है। करीब एक घंटे समस्या सुनने के बाद अधिकारी बिना समाधान के लौट गए।
जिंदल सॉ की ओर से बनेड़ा क्षेत्र स्थित लापिया-जालिया खनन क्षेत्र में अवैध ब्लास्टिंग के विरोध में ग्रामीणों का धरना-प्रदर्शन 11वें दिन जारी रहा। जालिया के मुकेश रैबारी ने बताया कि मंगलवार दोपहर बाद एसडीएम आव्हाद सोमनाथ, मांडल डिप्टी मेघा गोयल, सीआई संजय गुर्जर व अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचे। अधिकारियों ने ग्रामीणों की समस्या सुनी। बिना समाधान के लौट गए। इससे लोगों में रोष है। ग्रामीणों का आरोप है कि वे खनन कार्य शुरू चालू करवाना चाहते हैं, लेकिन गांव के लोग इसके पक्ष में नहीं है। माली सैनी महासभा प्रदेश संगठन मंत्री कन्हैयालाल माली ने बताया कि जिला प्रशासन, उपखंड अधिकारी भीलवाड़ा, शाहपुरा विधायक लालाराम बैरवा समेत अन्य को जालिया में हुई घटना के बारे में बता दिया लेकिन कार्रवाई नहीं की गई।

Hindi News/ News Bulletin / उपखंड अधिकारी फिर पहुंचे जालिया, ग्रामीणों ने कहा-हमें नहीं चाहिए जिंदल

ट्रेंडिंग वीडियो