scriptसंकट में सुनीता : फिर टली अंतरिक्ष स्टेशन पर मौजूद भारतवंशी अंतरिक्ष यात्री की वापसी | Sunita in trouble: Return of Indian-origin astronaut at the space station postponed again | Patrika News
समाचार

संकट में सुनीता : फिर टली अंतरिक्ष स्टेशन पर मौजूद भारतवंशी अंतरिक्ष यात्री की वापसी

सुनीता और बुच विल्मोर ने 5 जून को अंतरिक्ष के लिए उड़ान भरी थी।

जयपुरJun 22, 2024 / 11:58 pm

pushpesh

वॉशिंगटन. अंतरिक्ष यात्रियों को ले जाने वाले बोइंग स्टारलाइनर में तकनीकी गड़बड़ी के चलते अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन (आइएसएस) से भारतीय मूल की अंतरिक्ष यात्री सुनीता विलियम्स की वापसी दूसरी बार टल गई है। नासा ने सुनीता सहित अन्य क्रू मेंबर की वापसी को लेकर अभी नई तारीख नहीं बताई है।
स्टारलाइनर को आइएसएस से मिलने और डॉकिंग के दौरान 28 रिएक्शन कंट्रोल सिस्टम (अरसीएस) थ्रस्टर्स में से पांच में समस्या का सामना करना पड़ा। थ्रस्टर्स में पांच छोटे हीलियम लीक का भी पता चला। सुनीता और बुच विल्मोर ने 5 जून को अंतरिक्ष के लिए उड़ान भरी थी। दरअसल, सुनीता जिस स्पेसक्राफ्ट स्टारलाइनर से से अंतरिक्ष में गई हैं, उसमें बीच-बीच में गड़बड़ी आ चुकी हैं। आइएसएस पर मौजूद सुनीता और अन्य क्रू मेंबर्स की वापसी इसी स्टारलाइनर से होनी है। नासा चाहता है कि स्टारलाइन दूसरा अमरीकी अंतरिक्ष यान बने, जो स्पेसएक्स के क्रू ड्रेगन के साथ अंतरिक्ष यात्रियों को स्पेस स्टेशन तक ले जा सके।
आगे क्या
नासा अधिकारियों का कहना है कि वे स्टारलाइन की लगभग छह घंटे की वापसी यात्रा शुरू करने से पहले थ्रस्टर फेलियर, वॉल्व समस्या और हीलियम रिसाव के कारणों को बेहतर ढंग से समझकर ठीक करेंगे।
सुपर बग का भी खतरा
इससे पहले आइएसएस के अंदर एक सुपरबग के होने की जानकारी सामने आई थी। वैज्ञानिकों ने एंटरोबैक्टर बुगंडेंसिस नामक बैक्टीरिया का पता लगाया था। यह आइएसएस के बंद वातावारण में विकसित होकर अधिक प्रभावशाली हो चुका है। यह बैक्टेरिया श्वसन तंत्र को संक्रमित करता है।

Hindi News/ News Bulletin / संकट में सुनीता : फिर टली अंतरिक्ष स्टेशन पर मौजूद भारतवंशी अंतरिक्ष यात्री की वापसी

ट्रेंडिंग वीडियो