ग्राम सड़कें झेल रही दुर्दशा, अनेक ग्राम सड़कों का हाल बेहाल

ग्राम सड़कें झेल रही दुर्दशा, अनेक ग्राम सड़कों का हाल बेहाल
करोड़ों की लागत से बनने वाली रोड में हो रही मनमानी

Ajay Khare | Publish: Mar, 20 2018 06:33:10 PM (IST) | Updated: Mar, 20 2018 06:33:11 PM (IST) ख़बरें सुनें

करोड़ों की लागत से बनने वाली रोड में हो रही मनमानी

गाडरवारा। सड़कों को ग्राम विकास का प्रमुख जरिया माना जाता है। जिनसे होकर ही ग्रामीण क्षेत्रों में विकास की मुख्य धारा पहुंचती है एवं ग्राम विकास की इबारत लिखी जाती है। लेकिन लोगों के बताए अनुसार क्षेत्र में अनेक ग्रामीण सड़कें जहां गुणवत्ताहीन हैं। वही संबंधित ठेकेदार की मनमानी के चलते सड़क निर्माण से लेकर बन जाने के बाद भी परेशानियां होने को मजबूर होना पड़ता है। बानगी के लिए सालीचौका रोड से आडेगांव, डुंगरिया ढिगसरा जाने वाला रोड प्रधानमंत्री सड़क के तहत बनाई गई है। लंबे अरसे में कियी प्रकार सड़क काम पूरा हुआ और सड़क बनते ही कुछ दिनों में कबाड़ा होकर अपनी गुणवत्ता की कहानी खुद बयां कर रही है। ग्रामवासियों के अनुसार दो तीन दिन पहले सड़क बनी और बनते ही जगह जगह गडढे दिखने लगे हैं।
करोड़ों की लागत से बनने वाली रोड में हो रही मनमानी
सालीचौका। पोड़ार तिगड्डा से सालीचौका होते हुए सूखाखैरी तक लगभग 70 करोड़ से ऊपर की लागत से सीसी रोड निर्माण मप्र डेवलपमेंट कारपोरेशन के तहत कराया जा रहा है। जिसमें लोगों के बताए अनुसार अर्थवर्क का काम इतना घटिया किया जा रहा है कि सीसी रोड कुछ ही समय में टूट जाएगा। अर्थवर्क के काम में जो खेतों की मिट्टी का उपयोग किया जा रहा है वह गुणवत्ताविहीन है। जबकि यहां पर मुरम मिट्टी का उपयोग किया जाना था। गौरतलब रहे कि अर्थवर्क एवं बेस पर ही पूरी सड़क की जिंदगी निर्भर होती है। यदि बेस एवं अर्थवर्क ठीक नहीं रहेगा तो अच्छी से अच्छी सड़क भी कुछ महीनों में दम तोड़ सकती है। वहीं इस रोड पर मुरम के बजाय खेतों की मिटटी डाली गई एवं इस मिट्टी को ढंकने हेतु आनन फानन में मशीनों द्वारा मिट्टी को एक सा कर दूसरे ही दिन मिट्टी के ऊपर गिट्टी बिछाई जा रही है। जिससे अधिकारियों द्वारा यदि कोई जांच की जाती है तो यह मिट्टी न दिखाई पड़े। वहीं इस बेसमेंट को बगैर मजबूत किए इसी के ऊपर कच्चा सीसी बेस डालकर उसके ऊपर फ ाईनल रोड निर्माण किया जा रहा है।लोगों का कहना है कि अधिकारी एवं जनप्रतिनिधि स्वयं समझ सकते हैं कि यह रोड कितने समय चलेगा। नागरिकों के अनुसार जनप्रतिनिधि एवं अधिकारियों द्वारा भी इस ओर ध्यान न देना आपसी मिलीभगत, भ्रष्टाचार का शक उत्पन्न करता है। लोगों ने मापदंडों के अनुरूप सड़क निर्माण कराने की मांग की है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned