scriptलंबे अर्से से नहीं हुई साफ-सफाई, जोहड़ में मर रही मछलियां | Patrika News
समाचार

लंबे अर्से से नहीं हुई साफ-सफाई, जोहड़ में मर रही मछलियां

श्रीकरणपुर में कच्ची थेड़ी स्थित जोहड़ का मामला, तालाब के आसपास का वातावरण भी दुर्गंधमय

श्री गंगानगरJun 23, 2024 / 07:56 pm

Ajay bhahdur

लंबे अर्से से नहीं हुई साफ-सफाई, जोहड़ में मर रही मछलियां

श्रीकरणपुर. कच्ची थेड़ी स्थित जोहड़ में फैला अपशिष्ट व काई युक्त पानी पर तैर रही मृत मछलियां। -पत्रिका

श्रीकरणपुर. कच्ची थेड़ी में बाबा रामदेव बड़ा मंदिर के निकट स्थित तालाब में पिछले चार-पांच दिनों से मछलियां मर रही हैं। आसपास लोगों का कहना है कि जोहड़ में पसरे अपशिष्ट से ऐसा हो रहा है। वहीं, करीब दो दशक से जोहड़ की सफाई नहीं होने से वहां का वातावरण भी दुर्गंधमय है।
कच्ची थेड़ी के वार्ड 13 में बने इस जोहड़ के आसपास रहने वाले लोगों मनजीतसिंह सोनू, जीवन सिंह, मुकेश कुमार, प्रेम कुमार व बिंदर सिंह आदि ने बताया कि पिछले चार-पांच दिन से रोजाना मछलियां मर रही हैं। तैरती हुई मृत या अचेत मछलियों को श्वान किसी तरह किनारे पर ले आते हैं और इन्हें खा जाते हैं। नागरिकों ने बताया कि अब तक करीब दो दर्जन से अधिक बड़े आकार की मछलियां मर चुकी हैं। उनका कहना है कि लंबे अर्से से साफ-सफाई नहीं होने से ही ये हालात उपजे हैं। उन्होंने बताया कि जोहड़ में फैले अपशिष्ट व काई से पानी दूषित हो चुका है। ऐसे में ऑक्सीजन का लेवल कम होने से ही मछलियां मर रही हैं। लोगों ने बताया कि दूषित पानी से आने वाली दुर्गंध के साथ वहां किनारों पर पड़े मृत मछलियों के अवशेष से आसपास का वातावरण प्रदूषित हो चुका है और इससे उनके स्वास्थ्य पर भी विपरीत प्रभाव पड़ रहा है।

20 साल से नहीं हुई जोहड़ की सफाई

जोहड़ के आसपास रहने वाले लोगों ने बताया कि करीब दो दशक से जोहड़ में साफ-सफाई नहीं हुई। इसके अलावा तीन-चार माह से जोहड़ में ताजा पानी भी नहीं भरा गया। इससे जोहड़ में खड़ा पानी दुर्गंधमय हो चुका है। नागरिकों ने बताया कि इस तालाब में पानी की आपूर्ति के लिए नहर से खाळा है लेकिन इसमें से पीछे ही कहीं पानी तोड़ लिया जाता है। लोगों की मांग है कि इस जोहड़ को पक्का किया जाना चाहिए। वहीं, इसका सौंदर्यकरण भी किया जाना चाहिए ताकि आसपास व अन्य लोगों के लिए यह एक दर्शनीय स्थल बन सके।

कच्ची थेड़ी स्थित जोहड़ का मामला संज्ञान में नहीं

कच्ची थेड़ी स्थित जोहड़ का मामला संज्ञान में नहीं है। मौका मुआयना कर जल्द ही जोहड़ की साफ-सफाई व सौंदर्यकरण संबंधी कार्य योजना बनाई जाएगी।
पवन चौधरी, इओ नगरपालिका श्रीकरणपुर।

Hindi News/ News Bulletin / लंबे अर्से से नहीं हुई साफ-सफाई, जोहड़ में मर रही मछलियां

ट्रेंडिंग वीडियो