scriptदो लाख सदस्यों की इ-केवासी नहीं, राशन से हो जाएंगे वंचित | Two lakh beneficiaries do not have e-KVasi, will be deprived of ration | Patrika News
समाचार

दो लाख सदस्यों की इ-केवासी नहीं, राशन से हो जाएंगे वंचित

pds

खंडवाJun 17, 2024 / 12:53 pm

Rajesh Patel

खाद्य विभाग ने विक्रेताओं के जरिए पात्रता पर्ची के प्रत्येक सदस्यों की इ-केवायसी कराने दिए निर्देश

जुलाई में हो सकती है राशन कटौती

आधार सक्षम सार्वजनिक वितरण प्रणाली में इ-केवासीय नहीं कराने वाले सदस्यों के हिस्से का राशन अगले माह बंद हो सकता है। पात्र परिवारों के सभी सदस्यों के इ-केवायसी कराने के लिए विभाग ने विक्रेताओं से कहा है कि इ-केवायसी कराने की प्रगति बढ़ाई जाए। अभी तक दो लाख से अधिक सदस्यों ने इ-केवायसी नहीं कराया है। ऐसे हितग्राही जो इ-केवायसी नहीं करा रहे हैं। उनके हिस्से के राशन में कटौती हो सकती है।
दस लाख सदस्यों को सब्सिडी का राशन वितरण

जिले में करीब दस लाख सदस्यों को सब्सिडी का राशन वितरण किया जा रहा है। इसमें से अभी तक दो लाख से अधिक सदस्यों की इ-केवायसी नहीं हुई है। सबकुछ योजना के तहत हुआ तो इ-केवायसी नहीं कराने वाले सदस्यों के हिस्से का राशन अगले माह से नहीं मिलेगा। विभाग अधिकारियों ने कहा कि चालू माह में सभी सदस्य इ-केवायसी करा लें। जिससे अगले माह के राशन से वंचित नहीं हों। इ-केवायसी नहीं कराने वाले सदस्यों को योजना का लाभ नहीं मिलेगा। भविष्य में पात्रता पर्ची से नाम भी बाहर हो सकता है।
पंधाना-छैगांव माखन में सबसे अधिक बाकी

विभाग के रिकार्ड के अनुसार इ-केवायसी में पंधाना, छैगांव माखन और मूंदी नगर पंचायत सबसे कमजोर है। पंधाना 47 हजार और पुनासा में 45 हजार सदस्यों की इ-केवायसी नहीं हुई है। इसी तरह छैगांव माखन में करीब चालीस हजार और मूंदी में ढाई हजार लोगों ने इ-केवायसी नहीं कराया है। बलड़ी, खालवा और ओंकारेश्वर नगर पंचायत की स्थित भी खराब है।
295 राशन दुकानों पर वितरण की प्रगति खराब

चालू माह में खाद्यान्न की सप्लाई देर से होने के कारण वितरण की प्रगति भी धीमी है। रविवार शाम पांच बजे की स्थिति में 488 दुकानों में से 56 पर 94 प्रतिशत वितरण हो चुका है। शेष 295 दुकानों पर अभी तक 30 से 43 प्रतिशत हितग्राहियों को ही राशन वितरण हुआ है। इन दुकानों पर वितरण की प्रगति खराब है। अभी तक पचास प्रतिशत हितग्राहियों को राशन का वितरण नहीं कर सके हैं। विभाग के अधिकारियों का दावा है कि वितरण ठीक चल रहा है।

Hindi News/ News Bulletin / दो लाख सदस्यों की इ-केवासी नहीं, राशन से हो जाएंगे वंचित

ट्रेंडिंग वीडियो