scriptधराशायी यातायात सिस्टम पर क्या बात होगी, जयपुर की राहों में नई रोशनी की तलाश होगी | Patrika News
समाचार

धराशायी यातायात सिस्टम पर क्या बात होगी, जयपुर की राहों में नई रोशनी की तलाश होगी

राज्य बजट से जयपुर शहर की उम्मीदें इस बार ज्यादा, सीएम और वित्त मंत्री दोनों जयपुर से

जयपुरJul 10, 2024 / 02:24 pm

Vikas Jain

जयपुर। राजस्थान विधानसभा में बुधवार को पेश किए जाने वाले राज्य बजट से राजधानी के लोगों को भी कई उम्मीदें हैं। शहर में धराशायी होती यातायात व्यवस्था हो या ड्रेनेज सिस्टम या अतिक्रमण। रामगढ़ बांध को पुनर्जीवित कर शहर की लाइफ लाइन फिर से बनाने की दिशा में कदम उठाए जाने की उम्मीदें लोग कर रहे हैं।
रामगढ़ बांध को पुनर्जीवित करने के लिए विशेष कदम उठाए जाएं। सरकार समयबद्ध तरीके से इसे अतिक्रमण मुक्त करवाने के लिए प्लानिंग बनाने की घोषणा करे। जयपुर की उम्मीदें इसलिए भी अधिक हैं, क्योंकि वित्त मंत्री विद्याधर नगर और मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा सांगानेर से विधायक हैं। जयपुर के लोग बजट में इन दोनों के साथ पूरे जयपुर शहर पर फोकस रहने की उम्मीद में है।
यहां बनें फ्लाईओवर और आरओबी

-सहकार मार्ग स्थित इमलीवाला फाटक

-रिद्धि सिद्धि जंक्शन, गोपालपुरा बायपास

-सीबीआइ फाटक पर रेलवे उच्च पुल –

पीआरएन दक्षिण के वंदे मातरम मार्ग पर पत्रकार कॉलोनी जंक्शन पर फ्लाईओवर
यहां बनें एलिवेटेड रोड

-सांगानेर फ्लाईओवर से चौरड़िया पेट्रोल पंप और मालपुरा डिग्गी रोड तक

-अंबेडकर सर्कल से ओटीएस, यहां से जवाहर सर्कल तक निर्माण

-कलक्ट्रेट सर्कल से राजमहल पैलेस तक
जलदाय विभाग

-दूषित पानी से मुक्त कराने की योजना बने

-विस्तारित जयपुर शहर में बीसलपुर का पानी मिले

-झोटवाड़ा, प्रताप नगर की जनसंख्या को देखते हुए नए सब डिवीजन बनाए जाएं
-शहर की 500 से ज्यादा मल्टीस्टोरी में बीसलपुर पानी उपलब्ध हो

बिजली

-शहर के बिजली तंत्र को मजबूत करने की जरूरत

-परकोटे के साथ ही पूरे शहर में विद्युत लाइनें भूमिगत, जिससे बारिश में हादसे नहीं हो
-विस्तारित जयपुर के पृथ्वीराज नगर, जगतपुरा सहित अन्य बाहरी इलाकों में बिजली आपूर्ति सुचारू रखने के लिए बिजली स्टेशन बने

इंफ्रा

-ट्रैफिक सुधार के लिए एलिवेटेड और अंडरपास के निर्माण की जरूरत
-बढ़ती महंगाई में लोगों को किफायती दर पर मिलें मकान

-आवासीय भूखंडों की योजनाएं भी की जाएं सृजित

-ड्रेनेज सिस्टम सुधारने पर काम की जरूरत

-परकोटा, मानसरोवर, मालवीय नगर, सिविल लाइंस और झोटवाड़ा की सैकड़ों कॉलोनियों की जर्जर सीवर लाइन दुरुस्त हों
-विश्व विरासत परकोटा का पुरा वैभव लौटाने के लिए कदम उठाने की उम्मीद

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य

– जेकेलोन अस्पताल में आइपीडी टावर

– कांवटिया में ट्रोमा सेंटर

– आरयूएचएस में मरीजों की संख्या बढ़ाने के लिए नई सुविधाओं की घोषणा
– नए सैटेलाइट और जिला अस्पताल की जरूरत

क्राइम, पुलिस

– कमिश्नरेट में अभी एक ही साइबर थाना है, जबकि कमिश्नरेट को चार जिलों में बांट रखा है। चारों जिलों में साइबर सेल है, लेकिन साइबर अपराध को देखते हुए चारों जिलों में एक-एक साइबर थाने की जरूरत
– सुरक्षा दृष्टि से शहर में सीसीटीवी कैमरों का दायरा बढ़ाना चाहिए

– जिन थानों में रजिस्ट्रेशन 500 से अधिक सालाना हो रहा है, उनका विभाजन कर नए थाने खोले जाने की जरूरत
– शहर में जमीन विवाद के बढ़ते मामलों को देखते हुए विशेष जांच दल का गठन होना चाहिए और अनुसंधान के लिए समय सीमा तय होनी चाहिए

Hindi News/ News Bulletin / धराशायी यातायात सिस्टम पर क्या बात होगी, जयपुर की राहों में नई रोशनी की तलाश होगी

ट्रेंडिंग वीडियो