प्लास्टिक गोदाम और फर्नीचर प्लाजा आग में जलकर खाक, 30 लाख का नुकसान

Gwalior, Madhya Pradesh, India
 प्लास्टिक गोदाम और फर्नीचर प्लाजा आग में जलकर खाक, 30 लाख का नुकसान

सुबह-सुबह शहर में दो स्थानों पर लगी आग से करीब 30 लाख से अधिक का नुकसान हो गया है। इसमें एक ओर अल सुबह पहुवा वाली माता रोड स्थित प्लास्टिक के गोदाम में भीषण आग लग जाने से क्षेत्र में दशहत फैल गई। 

ग्वालियर।  सुबह-सुबह शहर में दो स्थानों पर लगी आग से करीब 30 लाख से अधिक का नुकसान हो गया है। इसमें एक ओर अल सुबह पहुवा वाली माता रोड स्थित प्लास्टिक के गोदाम में भीषण आग लग जाने से क्षेत्र में दशहत फैल गई। वहीं गुब्बारा फाटक स्थित भगवती प्लाजा में आग लगने से क्षेत्र में कई घंटों तक अफरा-तफरी का माहौल रहा। दोनों ही जगहों पर फिलहाल शॉर्ट सर्किट से आग लगना बताया गया है।

   No automatic alt text available.

प्रथम पड़ताल में दोनों ही स्थानों आग भड़कने का कारण फायर उपकरण नहीं होना पाया गया है। वहीं फायर ब्रिगेड के देरी से पहुंचने की बात भी लोगों ने कही है। फायर ब्रिगेड ने दोनों ही स्थानों पर करीब 30 गाड़ी पानी डालकर आग को काबू में किया। बात दें नगर निगम द्वारा शहर में करीब 300 से अधिक लोगों को फायर सेफ्टी के नोटिस पहले जारी करने की बात निगम अफसरों ने कही है। लेकिन किसी ने भी फायर अफसरों से अभी तक एनओसी प्राप्त नहीं की है। जिससे शहर में फायर सेफ्टी नियमों के उल्लंघन पर भी सवाल खड़े हो रहे हैं। 


     Image may contain: 5 people


        Image may contain: 11 people

भयानक लपटें
गुब्बारा फाटक पर फर्नीचर गोदाम की दूसरी और तीसरी मंजिल में  आग लगने के बाद उठतीं लपटें। दूसरे चित्र में आग पर काबू पाते दमकल दस्ते के कमी।
पत्रिका

स्पॉट-1, पहुवा वाली माता सागरताल रोड
नुकसान- 10 लाख बताया  
समय- 5 बजे आग लगी, 7:20 तक आग बुझाई
पानी- 14 गाड़ी गाडिय़ां लगीं
1. हरीश राठौर ने सुरेश राजपूत से गोदाम किराए पर लिया था। 
2. आग को बुझाने के लिए गोदाम की दीवारें तोड़ी गईं, शटर उखाड़ा गया तब जाकर आग को काबू पाया जा सका। इसके 3. आस-पास के एरिया में रिहायशी बस्ती थी जिससे लोगों में दहशत फैल गई। 


     No automatic alt text available.

स्पॉट-2, भगवती प्लाजा, गुब्बारा फाटक
नुकसान- 20 लाख बताया 
समय- 10:30 बजे तक बुजाई
पानी- 13 गाड़ी पानी लगा
1. आपदा प्रबंधन भोपाल को 1079 पर कॉल कर जवानों को भी बुलवाया गया।

2. प्लाजा की ऊपरी दोनों मंजिलों में फर्नीचर, फोम के गद्दे भरे हुए थे। गोदाम सियाराम गुप्ता का बताया जा रहा है।

3. सियाराम गुप्ता का फर्नीचर का काम है और अन्य स्थानों पर भी उनका व्यवसाय संचालित है।

दोनों ही स्थानों पर फायर ब्रिगेड समय पर पहुंची है। पड़ताल में दोनों स्थानों पर फायर सेफ्टी उपकरण नहीं थे। लोगों ने बताया कि भवगती प्लाजा सुबह खुला था उसके मालिक बंद करके गए इसके बाद आग लगी है जो प्रथम दृष्टया संदिग्ध लग रही है। हम दोनों को नोटिस जारी कर रहे हैं। 
अतिबल सिंह यादव, नोडल अधिकारी फायर ब्रिगेड 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned