स्वास्थ्य मंत्री को महिलाओं ने दिया ऐसा जवाब कि बोलती हो गई बंद, आखिर क्या बोलीं महिलाएं

Gwalior, Madhya Pradesh, India
 स्वास्थ्य मंत्री को महिलाओं ने दिया ऐसा जवाब कि बोलती हो गई बंद, आखिर क्या बोलीं महिलाएं

प्रदेश की सरकार में स्वास्थ्य मंत्री रुस्तम सिंह को आज महिलाओं की हाजिर जवाबी ने चुप रहने पर मजबूर कर दिया। मामला चंदनपुरा का है, जहां मंत्री जी गए तो थे एक कार्यक्रम में शिरकत करने,लेकिन उन्हें वहां महिलाओं ने घेर लिया और अपनी शिकायतों और जवाबों से चुप करा दिया।

ग्वालियर/शिवपुरी । प्रदेश की सरकार में स्वास्थ्य मंत्री रुस्तम सिंह को आज महिलाओं की हाजिर जवाबी ने चुप रहने पर मजबूर कर दिया। मामला शिवपुरी की हद में आने वाले चंदनपुरा का है, जहां मंत्री जी गए तो थे एक कार्यक्रम में शिरकत करने,लेकिन उन्हें वहां महिलाओं ने घेर लिया और अपनी शिकायतों और जवाबों से चुप करा दिया।



दरअसल शिवपुरी की तहसील के गांव चंदनपुरा में सोमवार को पर्यावरण संरक्षण कार्यक्रम आयोजित हुआ। कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री और शिवपुरी के प्रभारी मंत्री रुस्तम सिंह शामिल हुए। उन्होंने यहां दो पेड़ लगाए और लोगों से कहा कि वे उन्हें नियमित रूप से पानी दें। मंत्री जी की इस बात पर महिलओं ने तपाक से कहा कि मंत्री जी यहां पीने को पानी नहीं है। ऐसे में पेड़ों के लिए पानी कहां से लाएंगे। महिलाओं की ये बात सुनकर मंत्रीजी चुप रह गए और फिर पूरे कार्यक्रम में पानी की बात पर कुछ खास नहीं बोले।






पानी की किल्लत से परेशान है ये गांव
चंदनपुरा शिवपुरी के उन गांवों में शामिल है। जहां पानी की सबसे ज्यादा किल्लत है। ये हाल सिर्फ चंदनपुरा का नहीं बल्कि शिवपुरी के अधिकांश इलाकों का है।

तालाब का हुआ भूमि पूजन, कपड़ेे के थैले बांटे
पर्यावरण सरंक्षण कार्यक्रम के तहत प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री रुस्तम सिंह ने यहां एक तालाब का भूमि पूजन  किया गया। साथ ही उन्होंने पर्यावरण को स्वस्छ रखने के लिए कपड़े के थैले भी बांटे।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned