कैश वालों को सताने लगी पुलिस

Dhirendra yadav

Publish: Jan, 14 2017 09:38:00 (IST)

Agra, Uttar Pradesh, India
कैश वालों को सताने लगी पुलिस

चेकिंग के दौरान सिकंदरा पुलिस ने पकड़ा 1.10 करोड़ रुपया

आगरा। अपना पैसा हो, या कंपनी का पैसा, पुलिस आचार संहिता के नाम पर कैश लेकर चल रहे लोगों को सता रही है। आचार संहिता लागू होने के बाद से जारी चेकिंग में सिकंदरा हाईवे पर  पुलिस ने सिक्योरिटी एजेंसी की दो कैश वैन से एक करोड़ से अधिक रकम पकड़ी। बड़ी रकम की जानकारी होने पर आयकर विभाग के अधिकारी और फ्लाइंग टीम पूछताछ के लिए मौके पर पहुंच गई। लम्बी पूछताछ के बाद दोनों कैश छोड़ दिए गए। 

यह था पहला मामला 
सबसे पहले पुलिस ने सिकंदरा स्मार के सामने तिराहे पर चेकिंग के दौरान सीएमएस कंपनी की वैन को पकड़ा। वैन में कृष्णा नगर मथुरा निवासी राकेश के अलावा दो गनमैन और ड्राइवर सवार थे। पुलिस ने कैश वैन को चेक किया, तो उसमें 43 लाख 13 हजार रुपये मिले। पुलिस वैन को थाने ले आई। एजेंसी के स्टाफ का कहना था कि रकम टोरंट पावर आदि कंपनियों की है। कैश कलेक्शन कर उसे बैंक में जमा कराने ले जा रहे थे। 

यह है दूसरा मामला 
दूसरे मामले में रुनकता चौकी पुलिस ने सिटी फेडरल पेट्रोल कंपनी की गाड़ी को पकड़ा। उसमें दो गनमैन सवार थे। एत्मादौला निवासी राजेन्द्र सिंह तौमर ने बताया कि वे कंपनी के कर्मचारी हैं। उनकी कंपनी के पास कई बैंकों का कैश लाने ले जाने का कांटेक्ट है। एटीएम का कैश भी उनकी कपंनी की गाड़ियों में जाता है। यह कैश आईसीआईसीआई बैंक की भरतपुर की तीन शाखाओं का है। पुलिस ने कर्मचारियों की बात नहीं मानी और आयकर विभाग की टीम को इस कैश की जांच करने के लिए बुला लिया गया। देर रात कागज सही पाए जाने पर कैश छोड़ दिया गया। 


ये हुई पुलिस की कार्रवाई

11 जनवरी को एत्मादपुर हाईवे स्थित कुबेरपुर चौराहे पर चेकिंग में 19 लाख और छह लाख रुपये पकड़े। रकम एटीएम में डालने तथा बैंक जा रही थी। तीसरी गाड़ी से पुलिस ने 10 किलो चांदी पकड़ी।
9 जनवरी को पुलिस ने अलग-अलग स्थानों से व्यापारियों से 30 लाख रुपये चेकिंग में पकड़े।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned