मुख्यमंत्री ने पहचानी शहर की ‘आत्मा’, ये हैं पांच उदाहरण

Bhanu Pratap

Publish: Dec, 01 2016 12:19:00 (IST)

Agra, Uttar Pradesh, India
 मुख्यमंत्री ने पहचानी शहर की ‘आत्मा’, ये हैं पांच उदाहरण

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शहर की आत्मा को पहचाना है। यही कारण है कि पहली बार शहर का विकास उसकी आत्मा के अनुरूप हो रहा है।

आगरा। शहर की आत्मा पर्यटन में है। पर्यटन से लाखों लोग रोजगार पा रहे हैं। प्रत्यक्ष के साथ अप्रत्यक्ष रूप से भी रोजगार पा रहे हैं। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शहर की आत्मा को पहचाना है। यही कारण है कि पहली बार शहर का विकास उसकी आत्मा के अनुरूप हो रहा है। यही विकास कार्य आगरा शहर को समृद्धि की ओर ले जाएंगे।


1.बर्ड फेस्टिवल
जिलाधिकारी गौरव दयाल ने बताया कि मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की प्राथमिकता सूची में आगरा है। तभी तो यहां लगातार दूसरी बार बर्ड फेस्टविल हो रहा है। इस फेस्टविल की धमक पूरी दुनिया में है। पक्षी प्रेमियों का चम्बल में आना शुरू हो गया है। तीन दिसम्बर को मुख्यमंत्री उद्घाटन करेंगे। जिलाधिकारी ने बताया कि बर्ड फेस्टविल केवल पक्षियों को देखने के लिए नहीं है, बल्कि यह तो पर्यावरण के प्रति आम जन को जागरूक करने का अभियान है।


2.आगरा-इटावा साइकिल हाईवे
श्री गौरव दयाल ने बताया कि आगरा-इटावा साइकिल हाईवे की सौगात कम नहीं है। यह विश्व का सबसे बड़ा साइकिल हाईवे है। मुख्यमंत्री जी ने साइकिल ट्रैक पर स्वयं साइकिल चलाई है। साइकिल रैली में कई देशों के साइकिल प्रेमी आए। इससे आगरा का प्रमोशन और ब्रांडिग हुई है। आगरा से 80 किलोमीटर दूर चम्बल सफारी का भी प्रचार हो रहा है।

dm agra
डीएम आगरा गौरव दयाल

3.आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे
जिलाधिकारी ने बताया कि 302 किलोमीटर लम्बा आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे भी आगरा के लिए बड़ी सौगात है। यह एक्सप्रेस वे यमुना एक्सप्रेस वे को भी जोड़ेगा। अब आगरा से लखनऊ दूर नहीं है। आगरा, मथुरा जिलों के लोगों को लखनऊ से काम पड़ता ही है। साढ़े तीन घंटे में लखनऊ पहुंचा जा सकता है, जो सपने का हकीकत में बदल जाने जैसा है।


4.आगरा इनररिंग रोड
श्री गौरव दयाल ने बताया कि आगरा इनररिंग का निर्माण भी शहर के विकास में चार चांद लगाएगा। इस मार्ग के माध्यम से बिना किसी जाम के यमुना एक्सप्रेस वे और आगरा लखनऊ एक्सप्रेस वे से जुड़ रहे हैं। इनररिंग रोड की मांग वर्षों से हो रही थी, जो अब आकर पूरी हुई है।


5. ताजगंज प्रोजेक्ट
जिलाधिकारी ने बताया कि ताजगंज प्रोजेक्ट भी आगरा की आत्मा के अनुरूप है। ताजमहल दुनिया का सबसे सुंदर स्मारक है। इसी कारण ताजमहल के आंगन ताजगंज को सुंदर रूप दिया गया है। पर्यटक कहीं से भी ताजमहल की ओर आता है, तो उसे मनभावन दृश्य दिखाई देता है। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने ताजगंज प्रोजेक्ट आम जनता के साथ-साथ पर्यटकों को भी समर्पित किया है।


जिलाधिकारी की जनता से अपेक्षा
जिलाधिकारी गौरव दयाल का कहना है कि ताजगंज प्रोजेक्ट को सुरक्षित रखने की जिम्मेदारी स्थानीय लोगों की है। ताजमहल के आसपास स्वच्छता अभियान रोज चलाएं। उन्हें जानकारी मिली है कि कुछ लोग इधर-उधर गंदगी फैला रहे हैं। स्वनियंत्रण की जरूरत है। जहां दुनियाभर के पर्यटक आ रहे हैं, वहां के लोगों की जिम्मेदारी अधिक बढ़ जाती है।

देखें वीडियो

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned