DBRAU के कुलपति तक एक क्लिक पर पहुंचेगी आपकी शिकायत, देखें वीडियो

Bhanu Pratap

Publish: Jan, 14 2017 07:46:00 (IST)

Agra, Uttar Pradesh, India
DBRAU के कुलपति तक एक क्लिक पर पहुंचेगी आपकी शिकायत, देखें वीडियो

डॉ. भीमराव अम्बेडकर यूनिवर्सिटी (आगरा यूनिवर्सिटी) में किसी भी समस्या के समाधान के लिए अब आपको भटकने की जरूरत नहीं होगी।

आगरा। डॉ. भीमराव अम्बेडकर यूनिवर्सिटी (आगरा यूनिवर्सिटी) में किसी भी समस्या के समाधान के लिए अब आपको भटकने की जरूरत नहीं होगी। कुलपति डॉ. अरिवन्द कुमार दीक्षित ने विद्यार्थियों को सहूलियत देने के लिए कॉन्टेक्ट टू वीसी नाम से आगरा यूनिवर्सिटी की वेबसाइट पर एक ऑप्शन जारी करने का निर्णय लिया है। वेबसाइट पर जाने के बाद इस ऑप्शन पर क्लिक करके आप अपनी हर समस्या, सुझाव यहां दे सकते हैं। आपका यह संदेश सीधा कुलपति के पास पहुंचेगा।
 

शिकायत पर तुरंत होगा एक्शन
कुलपति डॉ. अरविंद कुमार दीक्षित ने बताया कि शिकायत करने वाले निश्चिंत रहें, उनकी शिकायत ऐसा नहीं है कि पुराने प्रार्थनापत्रों की तरह कूड़े के ढेर में पड़ी रहेगी, बल्कि उनकी शिकायत पर एक्शन लिया जाएगा। वहीं जो सुझाव दिए जाएंगे, उन पर भी अमल किया जाएगा। कुलपति ने बताया कि यह व्यवस्था जल्द ही शुरू होने जा रही है। इसके लिए कार्य शुरू कर दिया है। उन्होंने बताया कि इस व्यवस्था के लागू होने के बाद उन छात्रों की परेशानी बच जाएगी, जो दूर दराज क्षेत्रों से आते हैं और कुलपति से मुलाकात न होने के चलते लौट जाते हैं।
 

इस समय पर मिल सकते हैं कुलपति से
कुलपति डॉ. अरविंद कुमार दीक्षित ने बताया कि उन्होंने यूनिवर्सिटी में आने वाले छात्रों के लिए भी समय निर्धारित किया हुआ है। उन्होंने बताया कि कोई भी छात्र उनसे कार्यालय में 12.30 से एक बजे तक आधा घंटे के समय में मिल सकता है। इसके लिए छात्र को किसी प्रकार की पूर्व अनुमति की आवश्यकता नहीं होगी। छात्र अपनी परेशानी बेझिझक उन्हें बता सकते हैं।


ऐसे करेंगे समस्या का निदान
कुलपति ने बताया कि छात्र की समस्या का निदान कराने का भी उन्होंने आसान तरीका निकाला है। इसके तहत वे छात्र की समस्या जिस भी विभाग से संबंधित है, उस विभाग के कर्मचारी को अपने कार्यालय में बुलाएंगे, कर्मचारी या अधिकारी के सामने ही बात होगी कि समस्या क्यों है और इसका निदान क्यों नहीं हो पा रहा है।

देखें वीडियो

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned