भाजपा को मात देने के लिए मायावती ने बदला प्लान, जानकर रह जाएंगे हैरान

Dhirendra yadav

Publish: Apr, 21 2017 02:58:00 (IST)

Agra, Uttar Pradesh, India
भाजपा को मात देने के लिए मायावती ने बदला प्लान, जानकर रह जाएंगे हैरान

बसपा में एक नया काम होने जा रहा है ।

आगरा। यूपी चुनाव 2017 में करारी हार के बाद बसपा सुप्रीमो मायावती द्वारा आगामी चुनावों की तैयारी शुरू कर दी गई है। इसे लेकर संगठन में बड़े स्तर पर फेरबदल किया जा रहा है, साथ ही नए लोगों को जिम्मेदारियां बांटने का काम शुरू कर दिया गया है। हाल ही में लखनउ में हुई बैठक से हिस्सा लेकर लौटे बसपाइयों ने बताया कि बसपा सुप्रीमो ने अब भाजपा को पटखनी देने के लिए प्लान बदल लिया है। मुख्य जॉन कॉर्डिनेटर, मंडल कॉर्डिनेटर और मंडल अध्यक्षों को पद से हटा दिया गया है। इसके साथ ही अब नई घोषणा होने जा रही है, जिसके तहत अब बसपा शहर अध्यक्ष का नया पद बनाने जा रही है। 

शहर पर होगा फोकस
पूर्व जिलाध्यक्ष प्रमोद रैना ने बताया कि निकाय चुनाव की तैयारी शुरू हो गई है। यूपी को दो भागों में बांट दिया गया है। पश्चिमी उत्तर प्रदेश और पूर्वांचल। पश्चिमी उत्तर प्रदेश में आने वाला आगरा जो बसपा का गढ़ कहा जाता है, वहां से बसपा की राजनीति की धुरी घूमेगी। इसके साथ ही अब बसपा में एक नया काम होने जा रहा है, इसके तहत अब पार्टी, जिला ही नहीं, बल्कि शहर अध्यक्ष भी बनाएगी। 

निकाय चुनाव के लिए बनेंगी कमेटियां 
प्रमोद रैना ने बताया कि निकाय चुनाव में बसपा इस बार पार्टी सिम्बल के साथ लड़ने जा रही है। इसके लिए तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। इसके लिए पहले कमेटियां बनाई जाएंगी। इन कमेटियों के द्वारा नगर कमेटी बनाई जाएगी, जिसके बाद वार्ड कमेटी बनेगी और बाद में प्रत्याशियों का चयन किया जाएगा। 


 पुराने नेताओं को फिर लाया जाएगा आगे  
बसपा नेता ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि बसपा सुप्रीमो मायावती ने पुरानी टीम पर पूरा भरोसा जताया है। इसी के चलते विधानसभा में कोई फेरबदल नहीं किया जा रहा है। इसके साथ ही उन पुराने नेताओं को फिर से चेहरा बनाने का काम शुरू कर दिया है, जो संगठन में तो थे, लेकिन उनकी पहचान बसपा नहीं भुना पा रही थी। बसपा नेता ने बताया कि सोशल मीडिया को मजबूत करने का काम भी अब बसपा द्वारा किया जाएगा। 

निकाय चुनाव की तैयारी
बसपा नेता ने बताया कि पहली परीक्षा होगी निकाय चुनाव में। इस बार पार्टी सिम्बल पर निकाय चुनाव लड़ा जाएगा। निकाय चुनाव में ही भाजपा के होश उड़ जाएंगे। ईवीएम में गड़बड़ी का खुलासा इस चुनाव से हो जाएगा, क्योंकि इस चुनाव में भाजपा की करारी हार होगी। इस परीक्षा में पास होने के बाद तैयारी होगी, लोकसभा चुनाव 2019 की। लोकसभा चुनाव के लिए पार्टी द्वारा अभी से तैयारी शुरू कर दी गई है। पार्टी की बैठकों का दौर जारी है। 


Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned