ASI नहीं करेगा शाही जोड़े की ख्वाहिश पूरी

Agra, Uttar Pradesh, India
ASI नहीं करेगा शाही जोड़े की ख्वाहिश पूरी

ब्रिटिश शाही दंपति प्रिंस विलियम और केट मिडलटन 16 अप्रैल को आगरा आ रहे हैं। इस दौरान वह प्रिंसेज डायना के उस अद्भुत फोटो ग्राफ को एक बार फिर से जीवंत करना चाहते हैं जो प्रिंसेज डायना ने 1992 में ताज के साए में खिचवाया था।

आगरा। 24 वर्ष पूर्व ताजमहल के सामने एक बेंच पर खिंचाए गए प्रिंसेज डायना की अद्भुत फोटो को फिर से जीवंत करने के लिए ब्रिटिश हाई कमीशन की टीम ने ताजमहल की मीनारों पर लगाए गए मचानों को हटाने का अनुरोध किया है। दरअसल शाही दंपति प्रिंस विलियम और केट मिडलटन १६ अप्रैल को आगरा आ रहे हैं। इस दौरान वह ताज का दिदार भी करेंगे।

क्यों हटवाना चाहते हैं मचान
वर्तमान में ताज महल की चार में से तीन मीनारों पर संरक्षण कार्य कराने के लिए लोहे के पाइप की मचान लगी हुई है जिसकी वजह से ताजमहल की सुंदरता की असली फोटो लेना संभव नहीं है। वहीं विभाग द्वारा इस अनुरोध को स्वीकार नहीं किया गया है।

क्या है कारण
नाम न छापने की शर्त पर भारतीय पुरातत्व विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि पिछले दो माह में ब्रिटिश कमीशन की एडवांस टीम कई बार ताजमहल आ चुकी है। जिले के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ एक मीटिंग में ब्रिटिश टीम द्वारा मचान हटाने का अनुरोध किया गया था लेकिन इस अनुरोध को स्वीकार नहीं किया गया। उन्होंने बताया कि काफी महीनों के अथक प्रयासों से मीनारों का संरक्षण कार्य किया जा रहा है और अगर मचान हटाई गयी तो ये कार्य शुरू से करना पड़ेगा इसलिए मचान हटाने का अनुरोध स्वीकार नहीं किया गया है।

16 अप्रैल को ताज दर्शकों के लिए रह सकता है बंद
जहां तक सुरक्षा इंतजाम की बात की जाए तो नाम न छापने की शर्त पर भारतीय पुरातत्व विभाग और पुलिस अधिकारी ने बताया कि शाही दम्पत्ति के आगरा दौरे के दौरान ताजमहल अन्य पर्यटकों के लिए बंद रखा जाएगा या नहीं ये अभी निश्चित नहीं है। इस मामले पर विदेश मंत्रालय ही आखिरी निर्णय लगा। जैसा भी होगा हमें पूर्व में ही सुचना मिल जायेगी। पुलिस अधिकारी ने बताया कि अगर स्मारक को अन्य पर्यटकों के लिए बंद नहीं रख गया तो सीआईएसएफ ब्रिटिश अधिकारियों के घेरे में शाही जोड़े को सुरक्षा प्रदान करेगी।

दस अप्रेल को पहुंच जाएंगे भारत
ब्रिटेन के लोकप्रिय शाही दंपति प्रिंस विलियम और केट मिडलटन दस अप्रैल को भारत आ रहे हैं। यह उनका पहला भारत दौरा होगा। शाही दंपति विश्व प्रसिद्ध ताजमहल का दीदार करने 16 अप्रैल को आगरा पहुंचेंगे। माना जा रहा है कि केट-विलियम का यह दौरा दोनों देशों के रिश्तों में और मजबूती लाने वाला साबित होगा। 16 अप्रैल को शाही जोड़ा दोपहर 12.30 बजे के आसपास आगरा आने के बाद चार बजे ताजमहल के दीदार को पहुंचेगा। शाही जोड़े के साथ-साथ अन्य ब्रिटिश अधिकारियों का दल उसी दिन एक विशेष विमान से दिल्ली पहुंचेगा जहां से शाही जोड़ा लन्दन के लिए उड़ान भरेगा।



प्रिसेंज डायना के प्रसिद्ध फोटो को करेंगे पुनः जीवंत
फरवरी 1992 में प्रिंसेज डायना ने ताजमहल के सामने सेंट्रल टैंक पर सफ़ेद संगमरमर की बेंच पर बैठकर एक फोटो खिंचवाया था। ये फोटोग्राफ इतना प्रसिद्ध हुआ कि तब से इस संगमरमर की बेंच को डायना बेंच ही कहा जाता है। माना जा रहा है अपनी मां प्रिंसेज डायना के उस अद्भुत फोटो ग्राफ को शाही दम्पति प्रिंस विलियम और केट मिडल्टन एक बार फिर से जीवंत करेंगे।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned