महिला से डर गए एसडीएम और सीओ, मामला जानकर रह जाएंगे हैरान 

Dhirendra yadav

Publish: Jun, 20 2017 08:16:00 (IST)

Agra, Uttar Pradesh, India
महिला से डर गए एसडीएम और सीओ, मामला जानकर रह जाएंगे हैरान 

सीओ थे, एसडीएम थे, और साथ थी पूरी टीम, लेकिन एक महिला के आगे उनके पसीने छूट गए।

आगरा। सीओ थे, एसडीएम थे, और साथ थी पूरी टीम, लेकिन एक महिला के आगे उनके पसीने छूट गए। दरअसल कस्बा मिढाकुर में तालाब को खाली कराने के लिए एसडीएम सदर पहुंचे थे। विरोध कर रही महिला ने अपने ऊपर मिट्टी का तेल डाल टीम को आत्मा हत्या करने की धमकी। इस धमकी के बाद एसडीएम और सीओ ने वहां से चुपचुपा निकल जाना ही उचित समझा। 

यहां है तालाब 
तहसील सदर के कस्बा मिढाकुर में स्थित तालाब जो कि कूड़े करकट डालने के कारण पूरा भर चुका है। इसकी शिकायत ग्रामीणोे द्वारा कई बार तहसील दिवस व संबधित अधिकारियोे से की गई थी। ग्रामीणोे की शिकायत पर एसडीएम सदर रजनीश मिश्र व क्षेत्राधिकारी अछनेरा भीम कुमार गौतम मौके पर जेसीबी लेकर पहुंच गए। जैसे ही जेसीबी ने तालाब को खोदना शुरू किया तभी एक महिला जेसीबी के आगे आकर खड़ी हो गई। महिला ने जेसीबी को तालाब खोदने से रोक दिया।

नहीं सुनी किसी की 
 एसओ मलपुरा द्वारा महिला को काफी समझाने का प्रयास किया गया, लेकिन महिला अपनी जिद पर अड़ी रही। महिला ने जेसीबी न रुकने पर अपने ऊपर केरोसिन के तेल से भरी कैन को उढ़ेल लिया। यह देखकर अधिकारियों के पसीने छूट गए। आनन फानन में टीम ने जेसीबी रुकवा दी। महिला ने बताया है कि उसका तालाब से सटा हुआ व दो विस्वा जमीन का पट्टा है। इसका मुकदमा अदालत में चल रहा है। लिहाजा उसकी जमीन से खुदाई नहीं होनी चाहिए। 

शुरू हो गया विरोध 
एसडीएम सदर द्वारा तालाब की पैमाइश के बारे में लेखपाल से जानकारी ली गई,तो उन्होेने बताया कि तालाब का कुल रकवा तीन विस्वा के करीब है, लेकिन मौके पर रकवा लगभग 6 विस्वा है। इस पर एसडीएम द्वारा तीन विस्वा तालाब की खुदाई कराए जाने के बारे में कहा तो इस पर ग्रामीण बिगड़ने लगे। ग्रामीणों का कहना है कि पूरी जमीन पहले से ही तालाब की है। जिस पर लाखन सिंह व उसकी पत्नी गीता द्वारा अवैध रूप से गोबर कूड़ा करकट डालकर कब्जा कर लिया गया है। लिहाजा पूरे तालाब की खुदाई होनी चाहिए। बात न बनती देख टीम वापस लौट गई।


Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned