यहां आठवीं पास प्रत्याशी ही जनता की पहली पसंद

Bhanu Pratap

Publish: Jan, 13 2017 11:23:00 (IST)

Agra, Uttar Pradesh, India
यहां आठवीं पास प्रत्याशी ही जनता की पहली पसंद

ग्रेजुएट और पोस्टग्रेजुएट प्रत्याशी हार जाते हैं यहां चुनाव 

आगरा। जब देश में पंचायत चुनाव लड़ने के लिए भी प्रत्याशियों की शैक्षणिक योग्यता तय करने की बात चल रही हो तो ऐसे में राज्यों की सबसे बड़ी पंचायत में पहुंचने वाले जनप्रतिनिधियों की शैक्षणिक योग्यता भी तय होना जरूरी हो जाता है। आगरा जिले की नौ विधान सभा सीटों में से तीन पर ऐसे विधायक है जो आठवीं और बारहवीं पास हैं। आगरा कैंट, फतेहपुर सीकरी और फतेहाबाद विधान सभा क्षेत्र की जनता अधिक पढे-लिखे प्रत्याशी को पसंद नहीं करती। देखिए पूरी रिपोर्ट। 
इन सीटों का हाल 
आगरा कैंट 
यहां से बसपा विधायक गुटियारी लाल दुवेश आठवीं पास है और दूसरे नंबर पर रहने वाले भाजपा प्रत्याशी गिरराज सिंह स्नातक थे। 
- वर्ष 2012 के विधान सभा चुनाव में इस सीट से मुस्लिम लीग केरला स्टेट कमेटी के प्रत्याशी जगदीश कुमार मौर्य सभी प्रत्याशियों में सबसे अधिक पढ़े  लिखे थे लेकिन उन्हें हार मिली जबकि जीतने वाले प्रत्याशी मात्र आठवीं पास। 
फतेहपुर सीकरी 
यहां से बसपा विधायक सूरजपाल सिंह है जिनकी शैक्षणिक योग्यता केवल आठवीं कक्षा है। इस सीट पर दूसरे नंबर पर रहने वाले राजकुमार चाहर स्नातक थे लेकिन उन्हें यहां की जनता ने नकार दिया। 
- वर्ष 2012 के विधान सभा चुनाव में इस सीट से भाजपा और सपा के दोनों प्रत्याशी जीतेन्द्र फौजदार और सत्य प्रकाश पोस्ट ग्रेजुएट थे लेकिन इन्हें हार का सामना करना पड़ा जबकि आठवीं पास बसपा प्रत्याशी को जीत मिली।
फतेहाबाद 
यहां से बसपा विधायक छोटे लाल वर्मा है जिनकी शैक्षणिक योग्यता केवल बारहवीं कक्षा है। विधान सभा चुनाव में रालोद प्रत्याशी सतीश चन्द्र ग्रेजुएट थे जिन्हें हार का सामना करना पड़ा ।
- वर्ष 2012 के विधानसभा चुनाव में इस सीट पर कई प्रत्याशी जिनमें से भाजपा प्रत्याशी भी दसवीं पास थे वहीं रालोद प्रत्याशी अधिक पढ़े लिखे थे लेकिन जनता ने उन्हें नकार दिया। 

रिपोर्ट: संतोष कुमार पाण्डेय 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned