कूल इंडिया: पानी न करें बर्बाद, तभी बुझेगी हमारी प्यास , देखें वीडियो

Dhirendra yadav

Publish: Apr, 21 2017 01:44:00 (IST)

Agra, Uttar Pradesh, India
 कूल इंडिया: पानी न करें बर्बाद, तभी बुझेगी हमारी प्यास , देखें वीडियो

पानी को बेवजह बर्बाद न करें। पानी अनमोल है। 

आगरा। पानी को बेवजह बर्बाद न करें। पानी अनमोल है। इसका मोल तो वही समझ सकता है, जो बूंद बूंद पानी के लिए तरस रहा है। यह संदेश दिया पत्रिका अभियान कूल इंडिया के बैनर तले सुभाष पुरम के लोगों ने। अपील की गई, पानी का सही तरह प्रयोग करें, जिससे आगरा के हर नागरिक की प्यास बुझ सके। लोगों के साथ पार्षद राम ढकेली भी इस अपील में लोगों के साथ रहीं, साथ ही सुभाष पुरम, जगदीश पुरा क्षेत्र में लोगों को पानी बचाने के लिए जागरुक किया गया। 

देखें वीडियो -


चला जागरुकता अभियान
पत्रिका टीम ने कूल इंडिया अभियान के तहत पार्षद राम ढकेली के साथ वार्ड 78 के सुभाष पुरम में सेव वाटर जागरुकता अभियान चलाया। पानी बचाने की इस मुहिम में देखते ही देखते लोगों की भीड़ जुटने लगी। लोगों का कहना था, कि जब सभी जागरुक होंगे, तभी पानी की समस्या का समाधान हो सकेगा। यहां के रहने वाले प्रेम नरायण अग्रवाल ने कहा कि लोग पानी नालियों में बहा रहे हैं। इससे कई क्षेत्र पानी की समस्या से जूझ रहे हैं। पानी बचाने के लिए सोचना होगा, तभी इस गंभीर समस्या का समाधान होगा। रानी ने कहा कि एक किलोमीटर दूर से पानी भरकर लाती हूं, पानी का मोल तो मुझे पता है। इसलिए उन लोगों से अपील ये है, कि बेवजह पानी न बर्बाद करें।

देखें वीडियो -

पानी के लिए तरस रहे लोग
सुशीला ने बताया कि 17 वर्ष पूर्व उनका विवाह हुआ था। वे जब यहां आईं थी, तब से ही पानी की समस्या देख रही हैं। ससुराल में कुछ दिन तक नई नवेली बहू की तरह घर से बाहर नहीं निकली, लेकिन जब पानी की किल्लत हुई, तो सास के साथ घर से एक किलोमीटर दूर स्थित पानी की टंकी से पानी भरकर लाना पड़ा, तब शुरू हुआ पानी भरने का यह क्रम आज तक जारी है। अब तो सुबह उठकर यह पहला काम हो गया है, कि पहले पानी भर लो, घर के अन्य काम बाद में होंगे। शीला ने बताया कि सुबह बच्चे स्कूल जाते हैं, उस समय ही पानी भरना होता है, ऐसे में बहुत मुश्किल हो जाती है। 

देखें वीडियो -


नहीं सुनते नेता 
विनोद कुमार गोस्वामी ने बताया कि नेता वोट मांगने के दौरान यहां आते हैं। उसके बाद वे कोई सुनवाई नहीं करते हैं। 250 घर इस क्षेत्र में बने हुए हैं, लेकिन इतने घरों के लिए पानी की व्यवस्था सिर्फ एक समरसेबिल से चल रही है। वो भी घर से दूर लगी हुई है। विधायक के पास कई बार गये, लेकिन वो मिलते ही नहीं हैं। मोहन सिंह ने बताया कि जनप्रतिनिधि तो मानो, सिर्फ वोट मांगने के लिए ही बनें है, उन्हें जनता की समस्या से कोई मतलब नहीं है। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned