बाइस घंटे बाद परिजनों ने थाने के सामने से उठाया शव

Mukesh Sharma

Publish: Jun, 19 2017 10:08:00 (IST)

Ahmedabad, Gujarat, India
बाइस घंटे बाद परिजनों ने थाने के सामने से उठाया शव

साबरकांठा जिले के चिठोडा  पुलिस थाने के सामने से 22 घंटे बाद दलित युवक के परिजनों ने रविवार शाम

हिम्मतनगर।साबरकांठा जिले के चिठोडा  पुलिस थाने के सामने से 22 घंटे बाद दलित युवक के परिजनों ने रविवार शाम उसके शव को उठा लिया। इस दौरान परिजनों ने समाज के साथ मिलकर पुलिस उपाधीक्षक भरत बारोट  को ज्ञापन देकर पुलिस कार्रवाई में लापरवाही बरतने वाले पुलिसकर्मियों के विरुद्ध जांच और आरोपियों के गिरफ्तारी की मांग की। वहीं युवक की मौत के बाद चिठोडा थाना  पुलिस ने  इस मामले को  हत्या के मामले में बदल दिया गया।

विजयनगर तहसील के चिठोडा गांव के दलित युवक रघुवीर धीरूभाई रेटिया से गत 15 जून को कोटवाल पाडा के युवक मुकेश नानजीभाई निनामा ने रुपए की मांग की थी। मना करने पर उसने रघुवीर पर छुरी से वारकर उसे घायल कर दिया। गंभीर हालत में उसे पहले भिलोडा व हिम्मतनगर के बाद अहमदाबाद के सिविल अस्पताल में दाखिल कराया गया। इस संबंध में पुलिस ने आरोपी के विरुद्ध हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया था। उपचार के दौरान शनिवार सवेरे सिविल अस्पताल में  उसकी मौत हो गई। यहां से उसके परिजनों ने शव को ले जाकर शनिवार शाम को  चिठोडा पुलिस थाने के सामने रख दिया था।  22 घंटे बाद रविवार शाम चार बजे  उन्होंने युवक के शव को वहां से उठा लिया।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned