इस गांव में कभी नहीं हुए पंचायत चुनाव

Shankar Sharma

Publish: Dec, 01 2016 11:44:00 (IST)

Ahmedabad, Gujarat, India
इस गांव में कभी नहीं हुए पंचायत चुनाव

ग्राम पंचायतों के चुनाव की घोषणा के साथ ही गांवों में सरपंच और सदस्य पद के लिए उम्मीदवारों की चर्चा शुरू हो गई है, वहीं बारडोली तहसील के छोटे-से गांव ईशनपोर


हितेश माह्यावंशी
बारडोली.ग्राम पंचायतों के चुनाव की घोषणा के साथ ही गांवों में सरपंच और सदस्य पद के लिए उम्मीदवारों की चर्चा शुरू हो गई है, वहीं बारडोली तहसील के छोटे-से गांव ईशनपोर में ग्रामीणों ने पहले ही तय कर लिया है कि गांव के सरपंच और सदस्य कौन होंगे।

इस ग्राम पंचायत में आजादी के बाद अब तक कभी चुनाव नहीं हुए। इसी परंपरा के तहत ग्रामीणों ने इस बार भी चुनाव टाल दिए। उपसरपंच पद के लिए दो उम्मीदवार खड़े होने पर ग्रामीणों ने मंगलवार को गांव में एक मतपेटी रखकर वोट लिए और इसमें जीते उम्मीदवार को उपसरपंच घोषित कर दिया।

ईशनपोर गांव में कोली पटेल और हलपति समाज का बाहुल्य है। 500 की आबादी वाले गांव में करीब 300 मतदाता हैं। गांव के लोगों की एकजुटता अन्य गांवों के लिए प्रेरणा है। इस गांव में आजादी के बाद से अब तक सरपंच और सदस्य पद के लिए चुनाव नहीं हुआ।

ग्रामीण आपस में समझौता कर सरपंच, उपसरपंच तथा सदस्य तय कर लेते हैं। ग्राम पंचायतों के चुनाव की घोषणा के बाद मंगलवार को ग्रामीण एकत्रित हुए। आम सहमति से सरपंच और सदस्य नियुक्त किए गए। गांव में पहली बार दो सदस्यों ने उपसरपंच के लिए दावेदारी पेश की। इससे ग्रामीणों की चिंता बढ़ गई। चर्चा के बाद ग्रामीणों ने रास्ता निकाला। गांव में एक मतपेटी रखकर ग्रामीणों ने उपसरपच की पसंदगी के लिए चुनाव किया। आपसी समझौते से गांव में चुनाव होने से बच गया और गांव की परंपरा बरकरार रही।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned