राष्ट्रपति चुनाव के लिए मतदान

Mukesh Sharma

Publish: Jul, 17 2017 08:20:00 (IST)

Ahmedabad, Gujarat, India
राष्ट्रपति चुनाव के लिए मतदान

देश के नए राष्ट्रपति के चुनाव के लिए सोमवार को मतदान होगा। प्रदेश के विधायकों के लिए सचिवालय

गांधीनगर।देश के नए राष्ट्रपति के चुनाव के लिए सोमवार को मतदान होगा। प्रदेश के विधायकों के लिए सचिवालय गांधीनगर स्थित स्वर्णिम संकुल-2 के सापूतारा हॉल में मतदान की व्यवस्था की गई है। जहां पक्ष-विपक्ष के 182 मतदाता विधायकों की ओर से अपनी पसंद के उम्मीदवार के समर्थन में सुबह दस से शाम पांच बजे तक मतदान किया जा सकेगा।

बैलेट पेपर से पड़ेंगे वोट

जानकारी के अनुसार 25 जुलाई को कार्यकाल पूरा कर रहे राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के स्थान पर नए राष्ट्रपति के चुनाव के लिए भाजपा ने अपने सहयोगी घटक दल एनडीए के  समर्थन से वरिष्ठ नेता रामनाथ कोविंद को प्रत्याशी बनाया है। जबकि कांग्रेस ने अपने सहयोगी घटक यूपीए के समर्थन से पार्टी की वरिष्ठ नेता मीरा कुमार को चुनावी मैदान में उतारा है। सोमवार को देश के सभी राज्यों व केन्द्र शासित प्रदेशों के 4120 विधायक सम्बन्धित राज्यों की विधानसभा के मतदान केन्द्रों में वोट डालेंगे। हालांकि गुजरात विधानसभा भवन का मरम्मत कार्य जारी होने से यहां सचिवालय भवन में मतदान की व्यवस्था की गई है। जबकि 776 लोकसभा व राज्य सभा के सदस्य संसद भवन में स्थित मतदान केन्द्रों में वोट डालेंगे। मतदान बैलेट पेपर के जरिए होगा। प्रति मतदाता(विधायक) सिर्फ एक ही बैलेट पेपर मिलेगा। किसी कारण वश वह खराब हो जाने पर दूसरा बैलेट नहीं मिलेगा। निर्वाचन आयोग ने विधायकों के लिए गुलाबी एवं संासदों के लिए हरे रंग के बैलेट पेपर की व्यवस्था की है।

मतदान के लिए विशेष पेन भी

देश के सम्बन्धित राज्यों की विधानसभा के सचिवों की निगरानी में होने वाले राष्ट्रपति के चुनाव में मतदान के लिए इस बार निर्वाचन आयोग ने विशेष पेन मुहैया कराया है। मतदाताओं को उसी पेन से अपने पसंदीदा उम्मीदवार के क्रमांक का उल्लेख करके मतदान करना होगा। मतदान के बाद सभी पेन निर्वाचन आयोग को वापस लौटा दिए जाएंगे। आयोग की ओर से मतदाताओं को पेन मुहैया कराने का उद्देश्य मतदान की निशानी में एकरूपता एवं अन्य किसी प्रकार की संभावित अनियमितताओं का विवाद टालना है।

मतपेटियां दूसरे दिन आयोग के हवाले,मतगणना 20 को

बताया गया है कि सोमवार को मतदान होने के बाद विधानसभा के सचिव डीएम पटेल व एमआई पटेल मंगलवार को मत पेटियां दिल्ली ले जाकर केन्द्रीय निर्वाचन आयोग को सौंपेंगे। उसके बाद गुरुवार को संसद भवन में वोटों की गिनती होगी।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned