वाहन चालक निकला लूट का मास्टर माइंड

Shruti Agrawal

Publish: Jun, 20 2017 12:06:00 (IST)

Alirajpur, Madhya Pradesh, India
वाहन चालक निकला लूट का मास्टर माइंड

8 में से 5 लुटेरे हिरासत में, 10 लाख 5 हजार रुपए, एक बोलेरो वाहन, दो मोबाइल व देशी कट्टा बरामद, 1 जून को बैंक के रुपए लूटे थे

आलीराजपुर. आलीराजपुर से 20 किमी दूर चनोटा वाकनाला पहाडिय़ों के बीच लुटेरों के द्वारा एक बड़ी घटना को अंजाम देने वाले लुटेरों में से 5 लुटेरों को पुलिस द्वारा सोमवार को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की गई है। पुलिस ने लुटेरों के कब्जे से 10 लाख 5 हजार रुपए नकद, एक बोलेरो वाहन, दो मोबाइल व 1 देशी कट्टा बरामद किया। अन्य 3 आरोपियों की तलाश की जा रही है।


जून को आलीराजपुर से छकतला जा रहें नर्मदा झाबुआ बैंक के एक वाहन को जिसमें करीब 30 लाख रुपए मजदूरों को बाटने के लिए ले जाए जा रहे थे को निशाना बनाते हुए अज्ञात लुटेरों  द्वारा वाहन में बैठे बैंककर्मी और वाहन चालक की आंखों में मिर्च पावडर डालकर लूट लिए गए थे और मौके से फरार हो गए थे।  जिसके पश्चात पीडि़त कर्मचारी द्वारा घटना की जानकारी वरिष्ठ कार्यालय व पुलिस को दी गई थी। पुलिस द्वारा घटना स्थल का निरीक्षण कर लुटेरों की धरपकड़ के लिए जिले में नाकाबंदी करवाने के साथ ही लुटेरों को ढूंढने में जुट गई थी। पुलिस की पतासगी में सोमवार को 5 आरोपियों को ढूंढ निकालने में सफलता प्राप्त की गई।
3 अभी भी फरार
पुलिस के द्वारा लूट के 8 आरोपियों में से 5 लुटेरों को पकड़ लिया गया, जिनमें घटना का मास्टर माइंड अमित पिता उदयसिंह डावर उर्म 24 निवासी छोटी गेंद्र थाना बखतगढ़, अनसिंह पिता जगरिया भीलाला उर्म 37 निवासी ग्राम बडदा,राहुल पिता राधेश्याम ठाकुर निवासी गुजरात के कडधरा थाना डबोई, बंसत पिता सियाराम तोमर उर्म 22 निवासी चिकोडा थाना बखतगढ़, मनजी पिता थनसिया निवासी अम्बा थाना सोरवा को पुलिस  द्वारा गिरप्तार किया गया। वहीं मुख्य आरोपी जेमाल निवासी फूलमाल, राजेश उर्फ राजू निवासी गुजरात के राईछा तथा नेवल सिंह निगंवाल निवासी मोराजी की तलाश की जा रही है।  
एसपी ने प्रमाण-पत्र देकर किया सम्मान
एसपी कार्तिकेयन के द्वारा एएसपी सीमा अलावा, जोबट एसडीओपी डीएस पुरोहित,सोंडवा के थाना प्रभारी दिनेश सोलंकी को प्रमाण-पत्र देकर सम्मान भी किया। उन्होंने बताया की लूट का पर्दा फाश करने में इनका सराहनीय योगदान रहा। वहीं अन्य आरोपियों के पकड़े जाने पर जो इनाम घोषित किया था, वह भी दिया जाएगा।
घटना के चार दिन पहले भी की थी रैकी
लुटेरों की धरपकड़ के बाद एसपी कार्तिकेयन के ने पुलिस कंट्र्रोल रूम पर प्रेसवार्ता आयोजित की। जिसमें एसपी कार्तिकेयन के ने बताया की हमारे द्वारा पुलिस टीम का गठन कर चारों दिशाओं में भिजवाया गया था। वहीं लुटेरों को पकडऩे के लिए पुलिस महानिरीक्षक अजय शर्मा द्वारा 30 हजार रुपए और मेरे द्वारा 10 हजार रुपए इनाम की घोषणा की गई थी। लुटेरों की तलाशने का श्रेय सोंडवा के थाना प्रभारी दिनेश सोलंकी और उनकी टीम को जाता है। एसपी कार्तिकेयन के ने बताया की लुटेरों द्वारा लूट की प्लानिंग करीब 4 से 5 माह से चल रही थी। घटना के 4 दिन पहले भी लुटेरों द्वारा रैकी की गई थी। पुलिस द्वारा 5 आरोपियों को पकडऩे में सफलता हासिल हुई है, वहीं अन्य आरोपियों को भी जल्द पकड़ लिया जाएगा। एसपी कातिकेयन के ने बताया की सभी आरोपियों को कोर्ट में पेश किया गया था अन्य आरोपियों की पूछताछ के लिए पुलिस ने 5 दिन की रिमांड पर कोर्ट से लुटेरों को अपनी हिरासत में लिया है। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned