हिजाब पहनी महिला को अमरीका में बैंक ने बाहर निकाला

America
हिजाब पहनी महिला को अमरीका में बैंक ने बाहर निकाला

राष्ट्रपित ट्रंप के राज में अमरीका में एक और नस्लीय हमला का मामला सामने आया है। यहां एक मुस्लिम महिला को हिजाब पहनने पर कथित तौर पर बैंक से बाहर निकाल दिया गया।

वॉशिंगटन. राष्ट्रपित ट्रंप के राज में अमरीका में एक और नस्लीय हमला का मामला सामने आया है। यहां एक मुस्लिम महिला को हिजाब पहनने पर कथित तौर पर बैंक से बाहर निकाल दिया गया। बैंक स्टाफ पर आरोप है कि उन्होंने न सिर्फ उसे महिला का साथ अभद्रता की, बल्कि उसे धमकी भी दी गई कि उसने सिर पर पहना हिजाब नहीं उतारा तो पुलिस को बुलाया जाएगा। बताया जाता है कि ये घटना अमरीका की राजधानी वॉशिंगटन के साउंड क्रेडिट यूनियन शाखा की है। जहां बीते शुक्रवार को जमीला महमूद नाम की मुस्लिम महिला कार का भुगतान करने के लिए बैंक पहुंची थीं। इसी दौरान उन्हें ऐसे हालात का सामना करना पड़ा।
पीड़िता का बनाया हुआ वीडियो हुआ वायरल
क्रेडिट यूनियन की सदस्य जमीला ने अपने साथ हुई घटना के कुछ भाग को अपने मोबाइल से रिकॉर्ड कर लिया और बाद में उसे अपने फेसबुक पेज पर भी शेयर किया, जो तेजी से दुनियाभर में वायरल हो रहा है। इस वीडियों में पीड़िता रोते हुए अपने साथ घोर 'भेदभाव' की बात करती दिख रही हैं। उन्होंने कहा कि वो स्वेटर पहने हुई थीं और उनके सिर पर हिजाब था, क्योंकि उस दिन शुक्रवार था। बैंक में एक व्यक्ति ने उनसे हिजाब उतारने को कहा और ऐसा नहीं करने पर उनके साथ अभद्रता की गई।

बैंक के तर्क को पीड़िता ने नकारा
खबर के मुताबिक क्रेडिट यूनियन के भीतर लगे साइन बोर्ड पर स्पष्ट कहा गया है कि अंदर टोपी पहनना, सिर ढंकना और चश्मा लगाना मना है। जमीला ने कहा कि इंतजार करने के समय उन्होंने साइन बोर्ड के साथ उन दो पुरुषों का वीडियो बनाया, जिन्होंने टोपियां पहन रखीं थीं।
उन्होंने कहा कि एक पुरुष को हैट के साथ सेवा मुहैया क्यों कराई जा रही है और मुझसे कहा जा रहा है कि मैं अपना हिजाब उतार दूं।

बैंक के किसी कर्मी ने नहीं की मदद
जमीला ने बैंक के लोगों से इस बारे में बात की, लेकिन उनसे कहा गया कि वो अपना हिजाब उतारें। बैंक से कथित तौर पर बाहर निकाले जाने पर जमीला रोने लगीं। उन्होंने वीडियो फेसबुक पर शेयर किया है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned