कांग्रेस व बीजेपी के बीच जुबानी जंग

Abhishek Gupta

Publish: Oct, 19 2016 11:09:00 (IST)

Lucknow, Uttar Pradesh, India
 कांग्रेस व बीजेपी के बीच जुबानी जंग

चुनाव नजदीक आते वीआईपी सीट का दर्जा रखने वाली अमेठी की सभी विधानसभा सीटों के लिये कांग्रेस व बीजेपी के बीच जुबानी जंग तेज हो गयी है।

अमेठी. चुनाव नजदीक आते वीआईपी सीट का दर्जा रखने वाली अमेठी की सभी विधानसभा सीटों के लिये कांग्रेस व बीजेपी के बीच जुबानी जंग तेज हो गयी है। सभी पार्टियों की पैनी नजर जनपद अमेठी पर है।अमेठी सीट हमेशा से ही गांधी परिवार की पसंदीदा सीट रही है। अतः इस सीट पर काबिज होने के लिये केंद्र में सत्ता रूढ़ पार्टी व विपक्ष दोनों की पैनी नज़र होती है। 
इसी क्रम में यूपीए 2 के समय राहुल गांधी के द्वारा अमेठी में शुरू किये गये ड्रीम प्रोजेक्ट पेट्रोलियम संस्थान के पूर्ण होने पर बीजेपी व कांग्रेस में इसका श्रेय लेने के लिये होड़ लगी हुई है।

गौरतलब है कि यूपीए के समय में राहुल गाँधी ने कई महत्वाकांक्षी योजनाओं की शुरुवात की थी। जिनमे  बंद हो चूके फ़ूड पार्क , टीकरमाफी में ट्रिपल आई टी आदि प्रमुखता से थे। कुछ संस्थान राजनीति के भेंट चढ़ गये।  250 करोड़ की लागत से बना पेट्रोलियम संस्थान जिसका शिलान्यास सोनिया गाँधी ने यूपीए 2 के समय सोनिया गाँधी ने किया था और राहुल गांधी द्वारा प्रायोजित था। यह संस्थान लगभग 7 वर्षों के लंबे अंतराल के बाद बनकर तैयार हुआ है। इस संस्थान का श्रेय लेने के लिये चुनावी माहौल को देखते हुए बीजेपी व कांग्रेस नेताओं में लगभग होड़ सी लगी है।

सूत्रों के हवाले से खबर है कि बीजेपी के तीन नेता कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी, यच आर डी मिनिस्टर प्रकाश जावड़ेकर और पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान इस संस्थान का लोकार्पण करने के लिये अमेठी के जायस पहुँच रहे है। और साथ ही ये तीनो केंद्रीय मंत्री संस्थान का लोकार्पण करने के पश्चात गौरीगंज स्थित जवाहर नवोदय विद्यालय में उज्ज्वल योजना के तहत गरीबों को गैस सिलेंडर का वितरण करेंगे।


प्रस्तावित दौरे की खबर आने के बाद से ही कांग्रेस व बीजेपी खेमे में जुबानी जंग तेज हो गयी है। एक ओर राजीव गांधी पेट्रोलियम संस्थान का पूरा श्रेय कांग्रेस खुद को दे रही है। कांग्रेस का कहना है कि यह राहुल गाँधी का प्रोजेक्ट था । वही दूसरे ओर बीजेपी का कहना है कि यह प्रोजेक्ट बीजेपी ने अपने कार्यकाल में पूर्ण कराया। अतः इसका श्रेय बीजेपी को जाता है। देखना बाकी है कि नेताओं के इस जुबानी जंग में देश के नौ निहालों का भविष्य इस संस्थान से कितना सवरता है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned