जापानी इतिहास में पहली बार राजा अकिहितो छोड़ेंगे पद, जानिए क्यों

Asia
जापानी इतिहास में पहली बार राजा अकिहितो छोड़ेंगे पद, जानिए क्यों

जापान के साम्राट अकिहितो अब अपना पद छोड़ने जा रहे हैं। उनकी जगह पर उनके बड़े बेटे नारुहितो साम्राट बनेंगे। जापानी संसद में इससे संबंधित बिल पर जल्द ही मुहर लग जाएगी, जिसके बाद साम्राट को अपने पद से हटने का रास्ता साफ हो जाएगा। बताया जा रहा है कि दिसबंर 2018 तक नारुहितो सिंहासन पर बैठेंगे।

नई दिल्ली. जापान के साम्राट अकिहितो अब जल्द ही अपने पद से मुक्त होंगे। ऐसा जापानी इतिहास में पहली बार होगा, जब कोई साम्राट पद छोड़ने जा रहा हो। दरअसल, जापान की कैबिनेट ने एक ऐसे बिल को मंजूरी दे दी है, जिसके पारित होने पर साम्राट अकिहितो को अपने पद से हटने का रास्ता साफ हो जाएगा। 83 साल के सम्राट ने पिछले वर्ष कहा था कि उनकी उम्र और स्वास्थ्य अब उन्हें कामकाज करने की इजाजत नहीं दे रहा है। जिसकी वजह से वे अपने कर्तव्यों को पूरा करने में असमर्थ महसूस कर रहे हैं। मौजूदा समय में जापान में ऐसा कोई कानून नहीं है, जो साम्राट को अपने पद से हटने की इजाजत देता हो। अकिहितो के पद छोड़ने के बाद जापान के राजकुमार नारुहितो साम्राट का कामकाज संभालेंगे। साल 1817 के सम्राट कोककु के बाद पहली बार कोई जापानी सम्राट गद्दी से उतरेगा। 

राजकुमार नारुहितो बनेंगे सम्राट
जापान सम्राट अकिहितो की इच्छा के अनुकूल संसद में बिल भारी मतों से पास होने की उम्मीद है। मुख्य कैबिनेट सचिव योशिहाइड शुग ने शुक्रवार को संवाददाताओं को बताया कि सरकार सम्राट को पद से हटने के लिए जल्द ही कानून बनाएगी और संसद में इसे पेश किया जाएगा। उन्होंने कहा कि अकिहितो के उत्तराधिकारी राजकुमार नारुहितो सम्राट बनेंगे और वही कामकाज देखेंगे। इससे पहले नारुहितो ने कहा था कि वह अपने माता-पिता द्वारा अपने कर्तव्यों के निर्वहन के तैयार हैं। नारुहितो सम्राट के सबसे बड़े बेटे हैं। 

अगस्त 2016 में सिंहासन छोड़ने का जताया था इरादा
जापान के सम्राट अकिहितो ने अगस्त 2016 में पहली बार अपना पद छोड़ने का सार्वजनिक तौर पर इच्छा जाहिर की थी। तब उन्होंने कहा था कि अब वे काफी बुजुर्ग हो गए हैं जिसकी वजह से उनका स्वास्थ्य सम्राट पद पर बने रहने के लिए इजाजत नहीं देता। उन्होंने इस बात के संकेत दिए थे कि उनके बाद सबसे बेटे नारुहितो सिंहासन पर बैठेंगे

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned