ICJ का फैसलाः भारत ने जताई खुशी, पाकिस्तान ने नकारा

Asia
ICJ का फैसलाः भारत ने जताई खुशी, पाकिस्तान ने नकारा

कूलभूषण जाधव की फांसी पर रोक से पाकिस्तान बौखला गया है। पाकिस्तान ने ICJ के फैसले को मानने से इनकार कर दिया है। इधर, भारत ने ICJ  के फैसले पर खुशी जाहिर करते हुए कहा है कि वह जाधव को बचाने के लिए हर संभव कोशिश करेगा। 

नई दिल्ली. कूलभूषण जाधव की फांसी पर अंतराष्ट्रीय कोर्ट (ICJ)  की रोक लगाने के फैसले को पाकिस्तान ने मानने से इनकार कर दिया है। हेग स्थित इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस (ICJ) के फैसले पर पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि वह भारत को विश्व के सामने बेनकाब करेगा। वहीं, पाकिस्तान के रक्षा मंत्रालय ने भी ICJ के फैसले को मानने से इनकार कर दिया है। पाकिस्तानी रक्षा मंत्रालय ने ट्वीट कर कहा है कि दुनिया के किसी कोर्ट के पास ऐसा अधिकार नहीं है कि वह किसी देश की सबसे बड़ी अदालत के फैसले को पलट दे। पाकिस्तान का कहना है कि दोनों देशों के बीच कांउसलर एक्सेस को लेकर समझौता है। पाकिस्तान का आरोप है कि भारत ने जाधव मामले में कांउसलर एक्सेस लेने से इनकार कर दिया था। पाकिस्तान की तरफ से कहा गया है कि राष्ट्र हित के मामले में वह ICJ का फैसला नहीं मानेगा। 

जाधव को बचाने की हर संभव कोशिश करेगा भारत
पाकिस्तान की तरफ से प्रतिक्रिया आने के बाद भारतीय विदेश मंत्रालय ने भी अपना बयान जारी किया है। भारत ने इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस के फैसले का स्वागत करते हुए कहा कि जाधव को हर हाल में बचाने की कोशिश की जाएगी। विदेश मंत्रालय ने कहा कि ICJ के फैसले से पूरे देश और कुलभूषण जाधव के परिजनों को राहत मिली है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि भारत ने पाकिस्तान के झूठ को दुनिया के सामने रख दिया है। भारत का कहना है कि कुलभूषण मामले में भारत की दलील को कोर्ट ने सुना और उसे माना। इससे साबित होता है कि भारत का दावा सही है और पाकिस्तान दुनिया को गुमराह कर रहा है। अटॉर्नी जनरल मुकुल रोहतगी  ने कहा है कि जाधव पर ICJ के फैसले से साफ है कि पाकिस्तान की दलील फर्जी है। अटार्नी जनरल ने कहा, अब मामला पूरी तरह से सुना जाएगा। 

जाधव पर फैसले से भारत खुश
कुलभूषण जाधव की फांसी पर रोक को भारत अपनी बड़ी उपलब्धि बता रहा है। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने अंतरराष्ट्रीय कोर्ट के फैसले पर खुशी जताई है। सुषमा स्वराज ने भारत का पक्ष मजबूती से रखने के लिए वरिष्ठ वकील हरीश साल्वे को धन्यवाद दिया है। जाधव की फांसी रुकने से पूरे देश में खुशी की लहर फैल गई है। रक्षा मंत्री का अतिरिक्त प्रभार देख रहे अरुण जेटली ने भी  ICJ के फैसले का स्वागत किया है। अरुण जेटली ने कहा है कि अंतरराष्ट्रीय अदालत में पाकिस्तान का झूठ पकड़ा गया और कोर्ट ने भारत के हक में फैसला दिया है। उधर अंतराष्ट्रीय कोर्ट के फैसले के बाद से पूरे देश में जश्न का माहौल है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned