सपा-बसपा प्रत्याशी समेत 12 लोगों को चुनाव आयोग ने किया पाबंद

Akanksha Singh

Publish: Feb, 16 2017 02:30:00 (IST)

Lucknow, Uttar Pradesh, India
सपा-बसपा प्रत्याशी समेत 12 लोगों को चुनाव आयोग ने किया पाबंद

12 लोगों को चुनाव आयोग के निर्देश पर थाना पुलिस ने दो दो परिजनों के साथ बीस बीस लाख रुपये की धनराशि से पाबंद किया है। 

औरैया। समाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव के मुख्यमंत्रित्व काल में विधानसभा अध्यक्ष रहे धनीराम वर्मा के बेटे व समाजवादी पार्टी के बिधूना प्रत्याशी दिनेश वर्मा उर्फ गुडडू तथा बहुजन समाज पार्टी प्रत्याशी पूर्व विधायक शिवप्रसाद यादव सहित 12 लोगों को चुनाव आयोग के निर्देश पर थाना पुलिस ने दो दो परिजनों के साथ बीस बीस लाख रुपये की धनराशि से पाबंद किया है। 

क्षेत्र के ग्राम सुजान पुर्वा के निवासी स्वर्गीय धनीराम वर्मा समाजवादी पार्टी संस्थापक मुलायम सिंह यादव के मुख्यमंत्रित्व काल में विधानसभा अध्यक्ष रहे हैं। वे एक बार नेता प्रतिपक्ष भी रहे हैं, उनके छोटे बेटे दिनेश वर्मा उर्फ गुड्डू को भारी उठापटक एवं मुलायम सिंह यादव क़े साढू. व सिटिंग विधायक प्रमोद कुमार उर्फ एलएस की जगह पर सपा ने टिकट देकर कद्दावर बसपा नेता व पूर्व विधायक शिव प्रसाद यादव के सामने बिधूना विधानसभा की अत्यंत प्रतिष्ठापूर्ण सीट पर उतारा है। दोनों स्थानीय पक्षों में काफी अरसे से वर्चस्व की जंग चली आ रही है, किन्तु यह जंग तब से विकराल हो गयी जब से 27 फरवरी 206 का बिधूना ब्लाक में प्रमुख चुनाव के दिन गोली कांड हुआ। इस दौरान दोनों पक्षों में हुई भारी गोलाबारी से एक की मौत हो गयी थी। 

शांति व्यवस्था को पूरे जिले की पुलिस की पुलिस झोंक दी गयी थी, इसके बाद शिवप्रसाद यादव व उनके ब्लाक प्रमुख दावेदार भाई गीतम सिंह यादव, तत्कालीन बसपा नेता सतीश पाल सहित तमाम सर्मथकों के विरुद्ध करीब दर्जन भर से अधिक गभीर मुकदमें कायम हुये थे जिन्हें बाद में आई बसपा सरकार की मुख्यमंत्री मायावती ने खारिज कर दिये थे। तब से दोनो पक्षों में गहरी तल्खी चली आ रही थी। इस बार संयोग से दोनों पक्ष आमने सामने आ गये तो किसी अनहोनी की आशंका से घबराये प्रशासन के निर्देश पर बेला थानाध्यक्ष अखिलेश मिश्रा ने दोनोंं प्रत्याशियों के दो दो परिजनों को बीस बीस लाख रुपये की धनराशि से पाबंद किया गया। अभी तक इतनी बड़ी धनराशि से जिले में कोई पाबंद नही की गयी है। इससे दोनों पक्षों में खलबली मच गयी है। जिला प्रशासन ने जनपद में चुनाव के दौरान अशांति फ़ैलाने वाले 100 को चिन्हित कर रेड कार्ड नोटिस जारी की है। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned