EVM की शव यात्रा निकाल किया दाह संस्कार, बैलेट पेपर से चुनाव की उठाई मांग 

Azamgarh, Uttar Pradesh, India
  EVM की शव यात्रा निकाल किया दाह संस्कार, बैलेट पेपर से चुनाव की उठाई मांग 

भारत मुक्ति मोर्चा व राष्ट्रव्यापी लोकतंत्र बचाओ की ओर जताया गया विरोध

आजमगढ. ईवीएम का जिन्न शान्त होने का नाम ही नही ले रहा है। शुक्रवार को जहां एक संगठन ने जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपा वही दूसरे ने ईवीएम की शव यात्रा निकालकर दाह संस्कार किया। नगर के कलेक्ट्रेट क्षेत्र में भारत मुक्ति मोर्चा की ओर से ईवीएम के विरोध के दूसरे चरण में शुक्रवार को ईवीएम की शव यात्रा निकाला। इस दौरान शव यात्रा मेहता पार्क, कलेक्टेट, अम्बेडकर पार्क होते हुए कलेक्टेट चौराहे पहुचा।




शव यात्रा मे बड़ी संख्या में कार्यकर्ताओं ने हाथों में ‘ईवीएम हटाओ बैलेट पेपर लाओ’ जैसी लिखी तख्तिया भी ले रखी थी। कार्यकर्ताओ ने कलेक्टेट चौराहे पर ईवीएम का दाह संस्कार भी किया। इस दौरान कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए प्रदेश अध्यक्ष धर्मेन्द्र चैहान ने कहा कि ईवीएम मशीन और बैलेट पेपर में बहुत बड़ा अन्तर है। उन्होंने कहा कि ईवएम से चुनाव कराकर भारत में लोकतंत्र की हत्या की जा रही है। सुनील यादव यादव ने कहा कि लोकतंत्र में जिस पर जनता सहमत और संतुष्ट हो उसी से चुनाव कराना चाहिए। बैलेट पेपर से अपना वोट डालकर जनता पूरी तरह संतुष्ट होती थी, जबकि ईवीएम मशीन से जनता संतुष्ट नहीं है। उन्होंने मांग की कि अब हर बार बैलेट पेपर से ही कोई भी चुनाव सम्पन्न कराया जाय। 


देखें वीडियो-


वहीं, राष्ट्रव्यापी लोकतंत्र बचाओ के लोगों ने भी ईवीएम का विरोध किया और राज्यपाल को नामित ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा। उन्होंने कहा कि निर्वाचन आयोग ने सुप्रीम कोर्ट की आदेशों की अवहेलना की है। यह एक गंभीर विषय है। उन्होंने कहा कि ईवीएम के साथ पेपर टेल मशीन न लगने से वोटों का सत्यापान करना सम्भव नहीं है। यही वजह है कि मशीन के ऊपर से जनात का विश्वास उठ गया है। 


देखें वीडियो-



देखें वीडियो-



Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned