सावन के दूसरे सोमवार को मंदिरों पर उमड़े शिव भक्त, जलाभिषेक को पहुंचे कांवरिये 

Azamgarh, Uttar Pradesh, India
सावन के दूसरे सोमवार को मंदिरों पर उमड़े शिव भक्त, जलाभिषेक को पहुंचे कांवरिये 

वैसे तो सावन मास में हर दिन ही शिव भक्तों के लिए अहम होता है, लेकिन सोमवार के दिन शिव की भक्ति में आस्था रखने वाले लोगों में उत्साह दुगुना हो जाता है। 

आजमगढ़. वैसे तो सावन मास में हर दिन ही शिव भक्तों के लिए अहम होता है, लेकिन सोमवार के दिन शिव की भक्ति में आस्था रखने वाले लोगों में उत्साह दुगुना हो जाता है। इसका प्राचीन काल से ही सावन के सोमवार को भगवान शंकर  को जलाभिषेक करने का प्रचलन चला आ रहा है। इसी के तहत सावन मास के दूसरे सोमवार को जिले के सभी शिव मंदिरों में शिव भक्तों का रेला उमड़ पड़ा। 



सुबह से ही शिव को जलाभिषेक करने के लिए भक्तों का रेला उमड़ने लगा। नगर के भंवरनाथ स्थित शिव मंदिर पर तो जलाभिषेक करने की होड़ सी लगी रही। कमोवेश यही स्थिति गौरीशंकर घाट, काली चैरा, मातवरगंज व सिधारी सहित अन्य जगहों पर भी शिवालयों पर देखी गयी। उधर कांवरियों का जत्था प्रतिदिन स्थानीय शिव मंदिरों पर दर्शन-पूजन कर बाबा बैजनाथ धाम जाने के लिए रवाना हो रहे हैं। 


सोमवार को शिवालयों पर महिलाओं व किशोरियों की संख्या अधिक देखी गयी। सुबह सबेरे से ही अपने आराध्य देव भोलेनाथ को श्रद्धालुओं ने तरह-तरह से प्रसन्न करते नजर आये। किसी ने धूप अगरबत्ती जलायी तो किसी ने शिवलिंग को दूध से नहलाया, कोई बेल पत्र धतूरा चढ़ाकर भगवान शिव को खुश किया। 



वहीं, भैरोनाथ, दुर्वासा, दत्तात्रेय आदि धामों पर पूरे सावन माह में मेले जैसा नजारा रहता है। जहां जिले सहित आसपास के जिलों से भी श्रद्धालुओं का दर्शन-पूजन के लिए तांता लगा रहता है। लोग यहां स्थित शिवालयों में जलाभिषेक करने के साथ ही मन्नते भी मानते हैं।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned