कब्रिस्‍तान के विवाद को लेकर दो समुदाय के बीच संघर्ष, दर्जन भर से अधिक घायल

Azamgarh, Uttar Pradesh, India
कब्रिस्‍तान के विवाद को लेकर दो समुदाय के बीच संघर्ष, दर्जन भर से अधिक घायल

अल्पसंख्यक समुदाय के दर्जनों लोगों ने किया विरोध

आजमगढ़.  देवगांव कोतवाली के कटौली खुर्द में दो समुदायों में शुक्रवार को कब्रिस्तान के विवाद में खूनी संघर्ष हो गया वुद्धवार को गांव के ही नगई राम उम्र 112 वर्ष मृत्यु हो गई थी जिसको गांव के दलित कब्रिस्तान में वृहस्पतिवार को गड्ढा खोदकर दफन कर दिया गया। शुक्रवार को सुबह कब्र को पक्की बनाने लगे तो गांव के ही अल्पसंख्यक समुदाय के दर्जनों लोगों ने यह कहते हुए विरोध किया कि वह  जमीन मेरी भूमिधरी रही है इसके साथ ही उक्त लोगों ने बगल में रखे फावड़ा को उठा लिया। 




वह कब्र को खोजने का प्रयास करने कर ही रहे थे कि दोनों वर्ग आमने-सामने भिड़ गए मारपीट होता देख अल्पसंख्यक वर्ग के सैकड़ों की संख्या में लोग लाठी डंडा वअसलहे लेकर  घटनास्थल पर पहुंच कर मारपीट शुरू कर दिए वहीं दूसरे पक्ष के लोगो ने मारपीट देख कर घटना  स्थल की तरफ दौड पडे और मारपीट कर रहे लोगो को छुडाने लगे।  मारपीट में राकेश कुमार पुत्र मार्कंडेय 25 वर्षसचिन पुत्र शिवपूजन 25 वर्ष ,अमर देव पुत्र प्रभुनाथ 22 वर्ष ,शिवफेर पुत्र चिखुरी 55 वर्ष ,सुरेश पुत्र सुधई 30 वर्षसावित्री पत्नी प्रभुनाथ 40 वर्ष ,शारदा देवी पत्नी मार्कंडेयजितेंद्र पुत्र फुलेश्वरतारा देवी पत्नी अवध राजफूला देवी पत्नी जितेंद्र कुमार ,अवनीश पुत्र मातवर 16 वर्षकरन पुत्र गोपाल 34वर्ष ,श्रवण पुत्र सुरेंद्र 23 वर्ष ,घायल हो गए गांव के ही किसी व्यक्ति ने सूचना डायल ।०० को दिया।


पुलिस ने तत्काल मौके पर पहुंचकर किसी तरह से समझाने का प्रयास करने लगी लेकिन जनता के उग्र रूप को देखकर पुलिस किसी तरह से मामले को शांत कराया तथा घायलों वह ग्रामीणों के बयान के आधार पर अल्पसंख्यक समुदाय के घर पर आरोपियों को पकड़ने के लिए छापेमारी भी की इस छापेमारी में केवल चार लोग गिरफ्तार किए गए जबकि कई अन्य मौके से फरार हो गए घायलों को एंबुलेंस द्वारा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लालगंज पहुंचाया गया । 



जहां उपचार के बाद मेडिकल मुआयना भी किया गया गांव में तनाव को देखते हुए देवगांव गंभीरपुर ,वरदह ,  मेहनाजपुर आदि थानों की पुलिस सहित उप जिलाधिकारी लालगंज जैनेंद्र सिंह क्षेत्राधिकारी लालगंज श्यामनारायण कोतवाल मुनीश चौहान आदि लोग जमे रहे। समाचार लिखे जाने तक घायलों की तरफ से तहरीर नहीं दी गई थी'

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned