छात्रावास में न पानी ना ही शौचालय, कैसे रहेंगे बच्चे

Sendhwa, Madhya Pradesh, India
छात्रावास में न पानी ना ही शौचालय, कैसे रहेंगे बच्चे

बच्चों ने छात्रावास की समस्याएं बताई। कहा गया कि जो छात्रावास मिला है, उसमें न शौचालय ना ही पेयजल की सुविधा है। शाम को एसडीएम स्वयं छात्रावास का निरीक्षण करने पहुंचे।

सेंधवा.
शिक्षा के स्तर को बेहतर बनाने के लिए शासन की ओर से ढेरों कवायद की जा रही हैं। नए स्कूल खोले जा रहे हैं। आधुनिक सुख सुविधाओं से लैस स्कूलों में बच्चों को पढ़ाने की भी बात हो रही है। लेकिन अभी भी समस्याएं बनी हुईं हैं। बच्चों को पर्याप्त सुविधाएं नहीं मिल रही हैं। इस उदाहरण एकलव्य स्कूल में अध्ययनरत बच्चों की ओर से की गई शिकायत है। सोमवार को पालकों के साथ एसडीएम कार्यालय पहुंचे। यहां पर बच्चों ने छात्रावास की समस्याएं बताई। कहा गया कि जो छात्रावास मिला है, उसमें न शौचालय ना ही पेयजल की सुविधा है। साफ सफाई की भी कमी है। बारिश में तो काफी परेशानी होगी। इसपर एसडीएम ने छात्रावास का निरीक्षण कर शीघ्र व्यवस्थाएं दुरुस्त कराने की बात कही। शाम को एसडीएम स्वयं नालेपार स्थित छात्रावास का निरीक्षण करने भी पहुंचे।

दोपहर बाद एकलव्य आवासीय विद्यालय के बच्चे पालकों के साथ एसडीएम से मिलने पहुंचे। इस दौरान पालकों ने बताया कि विद्यालय में बच्चे दो से तीन वर्षों से पढ़ रहे हैं। प्रतिवर्ष बच्चों का छात्रावास बदला जा रहा है। इससे परेशानी हो रही है। इस बार भी बच्चों को नए छात्रावास मेें रहना है। छात्रावास शासकीय माध्यमिक विद्यालय क्रमांक दो स्थित चार कमरों में बना है। जहां न तो शौचालय की ना ही पेयजल की सुविधा है। ऐसे में बच्चे परेशान होंगे। साफ सफाई की स्थिति भी खस्ताहाल है। इसी तरह शाला में विषयवार शिक्षकों की भी कमी है। पठन पाठन पर असर पड़ता है। छात्रावास में बेहतर व्यवस्था कराने व शिक्षकों की तैनाती कराएं। इस दौरान एसडीएम शिवम वर्मा ने बच्चों को सभागार में बैठाकर उनकी समस्याएं पूछी। बच्चों ने भी छात्रावास की इन समस्याओं की जानकारी दी। इसपर एसडीएम ने स्वयं छात्रावास का निरीक्षण करने और समस्याओं को शीघ्र दूर कराने का आश्वासन प्रदान दिया। इस मौके पर पालक रामेश्वर जाधव, प्रताप सेनानी, प्रताप तरोले, मेहताब चौहान आदि मौजूद रहे।

शाम को एसडीएम पहुंचे छात्रावास
बच्चों एवं पालकों से छात्रावास की जानकारी लेने के बाद एसडीएम वर्मा शाम को नोलेपार स्थित छात्रावास का निरीक्षण करने पहुंचे। इस मौके पर छात्रावास में मौजूद इंतजामों की स्थिति देखी। इस दौरान छात्रावास पानी एवं शौचालय की व्यवस्था ठीक नहीं मिली। इसपर एसडीएम ने पानी की टंकी लगाने के निर्देश दिए। साथ ही छात्रावास के कमरों में पंखे लगाने को भी कहा। छात्रावास में उगी झाडिय़ों एवं गंदगी को शीघ्र हटाने के निर्देश दिए। इस दौरान मंडल संयोजक वीके पाटीदार, प्राचार्य जीएस वास्कले, छात्रावास अधीक्षक उदय सिंह चौहान मौजूद रहे।

इधर...गधे के बिचकने से दो छात्र घायल
स्थानीय सड़कों पर मवेशियों का डेरा अक्सर जमा रहता है। इससे लोगों पर खतरा मंडराता रहता है। सोमवार को शासकीय माध्यमिक विद्यालय क्रमांक दो के बच्चे अंजया पिता परमिश एवं मोदिया पिता भीखा स्कूल की छुट्टी होने पर घर लौट रहे थे। इसी दौरान पुराने एबी रोड पर पेट्रोल पंप के पास एक बाइक के गुजरने से वहां खड़ा गधा बिचक गया। गधा पास से गुजर रहे दोनों बच्चों के ऊपर से निकला। इससे दोनों बच्चों को काफी चोट लग गईं। इसके बाद सड़क पर मौजूद सदासिंह नामक व्यक्ति ने बच्चों को अस्पताल पहुंचाया। अस्पताल में बच्चों का उपचार कराया गया। घटना की जानकारी परिजनों को भी दी गई। परिजन सिविल अस्पताल पहुंचकर बच्चों को साथ ले गए।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned