सूर्य को अध्र्य देकर की मंगल कामना

Prashant Sahare

Publish: Jan, 14 2017 07:08:00 (IST)

Balaghat, Madhya Pradesh, India
 सूर्य को अध्र्य देकर की मंगल कामना

गांगुलपारा, सातनारी, वनस्पति उद्यान, बजरंगघाट पर पिकनिक मनाने पहुंचे पर्यटक

बालाघाट. संक्राति के दिन शनिवार को शहर के वैनगंगा नदी के घाटों व मंदिरों में सुबह से श्रृद्धालुओं का तांता लगा रहा। जहां हजारों लोगो नें सूर्य को जल और तिल का अध्र्य देकर मंगल कामना की। सूर्य उपसना का पर्व मकर संक्राति इस वर्ष भी परम्परागत रुप से आस्था पूर्वक मनाया गया।
बदलते वक्त के साथ मकर संक्राति पर्व पर पिकनिक की प्रथा भी चली आ रही है। शनिवार को भी लोग पूजन-अर्चन के बाद परिवार और दोस्तों के साथ पिकनिक स्पॉट पर पिकनिक का लुफ्त उठाते नजर आए।
आस्था पर महंगाई की मार  
मकर संक्राति पर्व पर तिल का विशेष महत्व होता है। किंतु मंहगाई में तिल के बड़े दामों से अधिकांश महिलाओं सिर्फ पूजन के लिए तिल की खरीदी की। जिससें सुबह तिल और जल का अध्र्य देकर सूर्योपासना की गई। घरों में तिल के व्यंजन से अधिक मुर्रे, सोजी व मुंगफल्ली आदि के व्यंजन बनाती महिलाएं दिखाई दी।  
पर्यटन स्थलों पर रही धूम
मकर संक्राति पर्व पर प्रतिवर्ष की तरह इस वर्ष भी गांगुलपारा, वनस्पति उद्यान सहित पावन सलिला वैनगंगा के शंकर घाट, बजरंगघाट, आमाघाट पर पिकनिक मनाने आए लोगों की खासी भीड़ रही। इन स्थलों पर मेले जैसी स्थित रही। लोग परिवार और दोस्तों के साथ यहां आकर पिकनिक मनाते नजर आएं। इन स्थलों पर चाट, पकोड़ा, गुपचुप, खिलौने सहित अन्य दुकानें भी लगाई गई।
पुलिस सुरक्षा रही मुस्तैद
शहर के शंकरघाट, बजरंगघाट व वनस्पति उद्यान के पीछे नदी की तरफ में मेले की स्थिति में पुलिस व्यवस्था भी मुस्तैद रही। यहां लाईफ जैकेट, किसी के डूबने पर बचाव के इंतजाम और अन्य सुरक्षा के इंतजाम पुलिस अधिकारियों द्वारा करवाए गए थे। इसके अलावा शहर के मुख्य चौक-चौराहों व भीड़-भाड़ वाले इलाकों पर पुलिस जवान मुस्तैद रहे।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned