सीसीटीवी फूटेज ने खोला लूटरों का राज, पकड़े गए 10 दिनों के भीतर

deepak dilliwar

Publish: Oct, 20 2016 01:11:00 (IST)

Baloda Bazaar, Chhattisgarh, India
सीसीटीवी फूटेज ने खोला लूटरों का राज, पकड़े गए 10 दिनों के भीतर

 मोहतरा गांव में दस दिन पहले हुई लूट के आरोपियों को पकडऩे में कसडोल पुलिस व क्राइम ब्रांच की टीम को सफलता मिली है

बलौदा बाजार/कसडोल. मोहतरा गांव में दस दिन पहले हुई लूट के आरोपियों को पकडऩे में कसडोल पुलिस व क्राइम ब्रांच की टीम को सफलता मिली है। विदित हो कि 8 अक्टूबर को मोहतरा निवासी प्रमोद साहू के घर एक महिला सहित चार आरोपियों ने प्रार्थी प्रमोद व मां के साथ मारपीट करते हुए 18 हजार नकदी व जेवर समेत करीब 35 हजार रुपए की लूट की वारदात को अंजाम दिया।

जिले के पुलिस अधीक्षक आरिफ  शेख के निर्देशन में अनुविभागीय अधिकारी श्याम सुंदर शर्मा, थाना प्रभारी प्रणाली वैध व क्राइम ब्रांच की टीम ने मिलकर महज 10 दिनों में मामले को सुलझा लिया। एफआईआर दर्ज होने के बाद शहर में लगे सीसीटीवी फूटेज व मोबाइल लोकेशन के आधार पर आरोपियों तक पहुंचने में पुलिस को सफलता मिली। जानकारी के मुताबिक महिला आरोपी दीक्षा त्रिवेदी पति रविंद्र त्रिवेदी (23) ग्राम मोहतरा की निवासी है और उसका प्रमोद साहू के परिवार से पुराना विवाद था।

दीक्षा वर्तमान में रायपुर के कबीर नगर में रहती है, उसे पैसों की आवश्यकता थी, इसलिए अन्य तीन आरोपियों ज्वाला सिंह पिता बुद्ध वीर सिंह (23) निवासी फतेहपुर उत्तरप्रदेश, अंकित बिसेन पिता मुन्नालाल बिसेन (20) निवासी बालाघाट मध्यप्रदेश और दीपक ठाकरे पिता अनूप ठाकरे (19), जो वर्तमान में कबीर नगर रायपुर में ही रहते हैं। उनके साथ मिलकर योजना बनाई और इस वारदात को अंजाम दिया। लूट के समय आरोपियों ने एक चाकू व एक देसी कट्टा रखा था।

चोरी किए गए चांदी के जेवरों को बलौदाबाजार के चक्रपाणि ज्वेलर्स में महिला ने पुरानी रसीद दिखा कर बेचा और सोने के जेवर को बालाघाट में बेचा। पुलिस ने आरोपियों के पास से लुटे गए जेवर, नकदी, वारदात में प्रयुक्त बाइक, चाकू व कट्टा बरामद कर लिया है। बहरहाल पुलिस ने आरोपियों के लिए अपराध क्रमांक 381/2016 के तहत 394, 120 और 414 के तहत कार्रवाई कर महिला आरोपी समेत एक अन्य युवक को जेल दाखिल कर दिया है। वहीं अन्य दोनों बालाघाट निवासी आरोपियों को रिमांड पर लिया है ताकि बालाघाट में बेचे गए सामान को बरामद किया जा सके। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned