महिला अधिकारी की हत्या करने वाले पति को उम्रकैद

Shankar Sharma

Publish: Jun, 20 2017 04:28:00 (IST)

Bangalore, Karnataka, India
महिला अधिकारी की हत्या करने वाले पति को उम्रकैद

ग्रामीण जिला एवं सत्र न्यायालय के न्यायाधीश देवराज भट ने एक सरकारी महिला अधिकारी की हत्या के आरोप में उसके पति को उम्र कैद, दहेज उत्पीडऩ के लिए तीन साल

बेंगलूरु. बेंगलूरु ग्रामीण जिला एवं सत्र न्यायालय के न्यायाधीश देवराज भट ने एक सरकारी महिला अधिकारी की हत्या के आरोप में उसके पति को उम्र कैद, दहेज उत्पीडऩ के लिए तीन साल के कठोर कारावास की सजा देने के साथ ही 45 हजार रुपए का जुर्माना लगाया।

आरोप पत्र के अनुसार आनेकल तहसील की हारोहल्ली निवासी मंजुला (28) का विवाह 10 नवंबर 2010 को प्रशांत कुमार से हुआ था। प्रशांत कुमार को दहेज में नकद दो लाख रुपए, कार, बाइक, आभूषण, कीमती फर्नीचर और अन्य सामान दिया गया। जल्दी ही प्रशांत मायके से और धन लाने की मांग को लेकर मंजुला की पिटाई करने लगा। फिर पत्नी के चरित्र पर भी संदेह करने लगा।

इस बीच मंजुला को खाद्य एवं औषधि नियंत्रक विभाग में औषधि निरीक्षक का पद मिल गया। उसी दिन से प्रशांत उस पर ज्यादा संदेह करने लगा। वह 3 मार्च 2013 को कार सिखाने के बहाने मंजुला को कहीं ले गया। आनेकल तहसील के बिदरागुप्पी तालाब के पास उसने मंजुला की गला काटकर हत्या कर दी और शव को तालाब में फेंक दिया। आनेकल पुलिस ने हत्या मामले की जांच की और प्रशांत कुमार को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया। सरकारी वकील गणेश राव ने मामले की पैरवी की थी।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned