ग्रामीणों ने तेंदुआ पकड़ कर वन विभाग को सौंपा

Shankar Sharma

Publish: Jul, 17 2017 09:44:00 (IST)

Bangalore, Karnataka, India
ग्रामीणों ने तेंदुआ पकड़ कर वन विभाग को सौंपा

कोलार जिले के अराबी कोत्तनूर व आसपास के गावों में पिछले तीन माह से आतंक का पर्याय बना तेंदुआ अंतत: पिंजरे में फंसने से ग्रामीणों ने राहत की सांस ली

बेंगलूरु. कोलार जिले के अराबी कोत्तनूर व आसपास के गावों में पिछले तीन माह से आतंक का पर्याय बना तेंदुआ अंतत: पिंजरे में फंसने से ग्रामीणों ने राहत की सांस ली। तेंदुए के पिंजरे में फंसने के बाद ग्रामीणों ने उसे पिंजरे सहित सारे गांव में घुमाकर जुलूस निकाला।

यह तेंदुआ अराबी कोत्तनूर व आसपास के गांवोंं मे रात के वक्त घुसकर भेड़-बकरियों व मुर्गों को अपना शिकार बनाकर जंगल में भाग जाता था। तेंदुए के भय से लोग अपने पशुओं को चराने के लिए पहाड़ी की तलहटी की तरफ जाने से डरते थे। इस तेंदुए की वजह से रात के समय लोग गांव में बाहर निकलने से डरते थे। अक्सर ही ग्रामीणों को नजर आने वाले इस तेंदुए ने वन विभाग के अधिकारियों को भी काफी परेशान कर रखा था। इसे पकडऩे के लिए वन विभाग के अधिकारियों ने अराबी कोत्तनूर के पहाड़ी स्थान पर पिंजरा लगा रखा था।

भोजन की तलाश में भटकता यह तेंदुआ रविवार तड़के करीब 4 बजे पिंजरे में फंस गया। तेंदुए के पकड़े जाने की खबर सुनकर आसपास के गांवों के लोग बड़ी संख्या में घटनास्थल पर जमा हो गए। पुलिस अधिकारियों ने घटनास्थल पर पहुंचकर भीड़ को तितर बीतर किया। बाद में तेंदुए को बन्नेरघट्टा के वन विभाग के अधिकारियों के हवाले कर दिया गया।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned