हज सब्सिडी खत्म होने से होगा फायदा, जानिए

Bareilly, Uttar Pradesh, India
हज सब्सिडी खत्म होने से होगा फायदा, जानिए

मुस्लिम समाज की मांग है कि सब्सिडी की रकम को अल्पसंख्यकों के विकास पर खर्च किया जाए।

बरेली। केंद्र सरकार हज यात्रा पर दी जाने वाली सब्सिडी को खत्म करने का विचार कर रही है। हज यात्रा पर सब्सिडी खत्म करने को लेकर बरेली के लोगों ने स्वागत किया है। बरेली हज सेवा समिति का कहना है कि हज सब्सिडी खत्म होने से हज यात्रा सस्ती होगी। जमात-ए-मुस्तफा के राष्ट्रीय महासचिव मौलाना शहाबुद्दीन ने कहा कि सब्सिडी की रकम अल्पसंख्यकों के कल्याण में लगायी जाए।

कई वर्षों से हो रही थी मांग
बरेली हज सेवा समिति के संस्थापक पम्मी खां वारसी ने हज सब्सिडी खत्म करने को लेकर कहा कि मुसलमान नहीं चाहते हैं कि उन्हें केवल नाम वाली सब्सिडी हज यात्रा पर दी जाए। हम तो पिछले कई सालों से ये मांग कर रहे थे कि सब्सिडी को खत्म कर दिया जाए। जिससे हज यात्रा और आसान व सस्ती हो सके। साथ ही ज़िन्दगी में एक बार हज करने वाली पाबंदी को भी हटाया जाए। उन्होंने कहा कि केंद्रीय अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने ये सही फैसला लिया है।

अल्पसंख्यकों के विकास पर खर्च हो रकम
पम्मी खां वारसी ने कहा कि सब्सिडी की रकम को अल्पसंख्यकों के विकास पर खर्च किया जाए। इस पहल से हज यात्रा भी सस्ती हो जाएगी। हज कोटे में जो इज़ाफ़ा किया गया है तो यूपी का हज कोटा भी बढ़ाया जाएगा ताकि यूपी के हज यात्री वोटिंग लिस्ट की प्रॉब्लम से बच सके। क्योंकि हर साल यूपी से 40 से 42 हज़ार आज़मीने हज आवेदन करते हैं और लगभग 25 हज़ार ही लोग हज यात्रा पर जा पाते हैं। यूपी भारत का सबसे बड़ा सूबा है इसलिए यहां से हज यात्रियों की तादाद भी ज़्यादा होती है। इसलिए बढ़े हुए कोटे का लाभ यूपी के हज यात्रियों को मिलना चाहिए।




Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned