बेटियों ने लगातार ऐसे किया नाम रौशन, अब खिलाड़ी मना रहे जीत का जश्र, देखें

Jagdalpur, Bastar, Chhattisgarh, India
बेटियों ने लगातार ऐसे किया नाम रौशन, अब खिलाड़ी मना रहे जीत का जश्र, देखें

राष्ट्रीय स्पर्धा में जगह पक्की करने पर जीत की खुशी मनाते माता रुकमणि आश्रम की बालिकाएं और नारायणपुर बालक की अंडर-17 टीम व सहयोगी।

जगदलपुर . सुब्रतो कप की राष्ट्रीय स्पर्धा में बस्तर की बेटियों ने लगातार चौथी बार जगह पक्की कर ली है। डोंगरगढ़ में आयोजित राज्य स्तरीय प्रतियोगिता (अंडर-17) के फाइनल मैच में रविवार को माता रुकमणि आश्रम डिमरापाल की टीम ने दुर्ग को 2-0 से हराकर यह उपलब्धि हासिल की है। इसी तरह पहली बार नारायणपुर आश्रम बालक टीम ने भी अंडर-17 में पहली बार सुब्रतो कप के राष्ट्रीय स्पर्धा में प्रवेश किया है।

ऐसे किया फाइनल में प्रवेश
गौरतलब है कि माता रुकमणि बालिका आश्रम की टीम ने सेमीफाइनल में  जशपुर को 8-0 से हराकर फाइनल में प्रवेश किया। इसके बाद फाइनल में दुर्ग की टीम को 2-0 से हराया। मंजू ने 49 वें और लक्ष्मी पोडियामी ने 58 मिनट में गोल किया।  इसी तरह नारायणपुर आश्रम बालक टीम ने फाइनल मैच में सरगुजा को 1-0 हराया।

लगातार चौथी बार राष्ट्रीय स्तर पर खेल
कोच रूपक मुखर्जी ने बताया कि अंडर 17 की दोनों टीमों का राष्ट्रीय स्तर पर पहुंचना गौरव की बात है।  माता रुकमणि आश्रम की बालिकाएं लगातार चौथी बार राष्ट्रीय स्तर पर खेलेंगी। खिलाडि़यों के साथ कोच शंकर पटेल, हनुमंत राव, लोचन साहू, बनानी सेन गुप्ता भी शामिल है।

अंडर-14 की टीम फाइनल में हारी
सुब्रतो कप के फाइनल मैच में (अंडर 14 बालक) बस्तर  और सरगुजा के बीच खेला गया। यह मैच निर्धारित समय तक ड्रा हो गया। इसके बाद टाइब्रेकर में सरगुजा ने 5 और बस्तर ने 4 गोल किए।

अच्छी ट्रेनिंग की जरूरत
माता रुकमणि आश्रम डिमरापाल के संचालक पद्मश्री धर्मपाल सैनी ने कहा कि बालिकाओं ने चौथी बार राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता में पहुंचकर बस्तर का नाम ऊंचा किया है। इस बार टीम में तीन या चार ही पुरानी खिलाड़ी है। खिलाडि़यों को यदि अच्छी कोचिंग मिले तो ये सुब्रतो कप में भी अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned