युवा दिल को ऐसे रखें हैल्दी, जानें कुछ खास टिप्स

Vikas Gupta

Publish: Jun, 27 2017 08:12:00 (IST)

Beauty
युवा दिल को ऐसे रखें हैल्दी, जानें कुछ खास टिप्स

युवा कार्डियोवैस्क्यूलर रोगों के वंशानुगत कारणों, हाई कोलेस्ट्रॉल, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा व मधुमेह के प्रति भी लापरवाह हैं। कसरत या योग आदि न करने और काम केबढ़ते तनाव की वजह से  भी युवा हृदयाघात के शिकार हो रहे हैं।

हार्वर्ड स्कूल ऑफ  पब्लिक हैल्थ के ताजा शोध के अनुसार हृदयाघात अब बुजुर्गों का रोग नहीं रहा, युवा भी इसके शिकार हो रहे हैं। ऐसे में कुछ खास बातों पर अमल कर बढ़ते खतरे से बचा जा सकता है। 

युवा सीने में बेचैनी, गले में तकलीफ, पीठदर्द, अपच, सर्दी व जुकाम को गंभीरता से नहीं लेते। ये हृदय रोग के लक्षण हो सकते हैं। युवाओं में हृदय रोग बढऩे का दूसरा कारण है खानपान। वे ज्यादा कैलोरी व नमक लेते हैं। स्मोकिंग व अल्कोहल जैसी गलत आदतें हृदय रोगों का खतरा बढ़ाती हैं। 

युवा कार्डियोवैस्क्यूलर रोगों के वंशानुगत कारणों, हाई कोलेस्ट्रॉल, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा व मधुमेह के प्रति भी लापरवाह हैं। कसरत या योग आदि न करने और काम केबढ़ते तनाव की वजह से  भी युवा हृदयाघात के शिकार हो रहे हैं।

ये करें: धूम्रपान व शराब का सेवन न करें, नियमित व्यायाम करें, रोजाना दो घंटे से ज्यादा टीवी न देखें, हैल्दी डाइट ही लें और आठ घंटे की पूरी नींद निकालें। 

1
Ad Block is Banned