इस रेलवे स्टेशन पर ट्रेन के रुकते ही अटक जाती है सांसें

Shribabu Gupta

Publish: Apr, 21 2017 01:58:00 (IST)

Begusarai, Bihar, India
इस रेलवे स्टेशन पर ट्रेन के रुकते ही अटक जाती है सांसें

देश और दुनिया में ऐंसे कई सारे रेलवे स्टेशन हैं जहां आते ही लोगों की सांसें अटक जाती हैं, लेकिन क्या आपको पता है बिहार में भी एक ऐंसा ही स्टेशन है जहां...

मोकामा। देश और दुनिया में ऐंसे कई सारे रेलवे स्टेशन हैं जहां आते ही लोगों की सांसें अटक जाती हैं, लेकिन क्या आपको पता है बिहार में भी एक ऐंसा ही स्टेशन है जहां ट्रेन के रुकते ही यात्रियों की सांसें अटक सी जाती हैं। हम बात कर रहे हैं बिहार के मोकामा के हाथीदह स्टेशन की।

यहां स्टेशन पर बरौनी बेगूसराय की तरफ जाने वाली ट्रेनों के यात्रियों की सांसें उस वक्त अटक जाती है, जब ट्रेन की अंतिम चार पांच बोगियां स्टेशन के रेलवे ओवर ब्रिज पर रुक जाती हैं। ऊपरी रेल ट्रैक पर जहां ट्रेनों की अंतिम पांच छह बोगियां रहती हैं वहां न तो कोई प्लेटफार्म है न ही रेल लाइन के दोनों तरफ कोई सुरक्षात्मक बैरिकेडिंग ही है।

हाथीदह के ऊपरी रेल ट्रैक से बेगूसराय और बरौनी की ओर ट्रेनें जाती हैं। रेलवे ओवरब्रिज के नीचे हावड़ा नई दिल्ली मेन लाइन का रेलवे ट्रैक रहता है। आमतौर पर किसी स्टेशन पर रुकने वाली ट्रेन यात्रियों को उतारती हैं। मंजिल की तरफ बढ़ जाती हैं, लेकिन हाथीदह स्टेशन पर ऐसा नहीं होता है।

लंबी रैक वाली ट्रेन जब भी हाथीदह अपर स्टेशन पर रुकती है तो पहले ट्रेन की आगे की बोगियों के यात्री ही उतर पाते हैं और जब ट्रेन की अगली बोगियों के यात्री उतर जाते हैं तो इस दौरान ट्रेन की अंतिम छह से सात बोगियां हाथीदह अपर स्टेशन के रेलवे ओवरब्रिज वाले लाइन पर रुकी होती है। इस दौरान उतरने पर जान जाने का खतरा रहता है, क्योंकि रेलवे ओवरब्रिज के पास न तो कोई प्लेटफॉर्म है और न ही वहां पर बैरिकेडिंग की गई है। गार्ड चिल्लाकर यात्रियों को उतरने से मना करते हैं। रेलकर्मियों और स्थानीय लोगों की मानें तो कई बार हादसे भी हुए हैं लेकिन दशकों से यही समस्या है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned