आजीविका विकास मिशन के नाम पर महिला समूह से धोखाधड़ी करने वाले गए जेल

Bemetara, Chhattisgarh, India
आजीविका विकास मिशन के नाम पर महिला समूह से धोखाधड़ी करने वाले गए जेल

महिला स्व-सहायता समूहों से लोन दिलाने के नाम पर लाखों रुपए वसूलने के मामले में आरोपी युवक शेख महमूद के साथ उसकी सहयोगी मुक्ता दुबे के खिलाफ धारा 420 के तहत प्रकरण दर्ज किया गया।

बेमेतरा.महिला स्व-सहायता समूहों से आजीविका विकास मिशन के नाम पर लोन दिलाने के नाम पर लाखों रुपए वसूलने के मामले में मंगलवार को आरोपी युवक शेख महमूद के साथ उसकी सहयोगी मुक्ता दुबे के खिलाफ धारा 420 के तहत प्रकरण दर्ज किया गया। महिला समूहों से पैसा वसूल कर आरोपी युवक तक पहुंचाने का काम करती थी।

दस दिन के न्यायिक रिमांड पर
महिला समूहों से करीबन दो लाख तीस हजार रुपए की धोखाधड़ी करने के मामले में प्रार्थी वोर्ड 11, बेमेतरा निवासी मोहनी देवदास की रिपोर्ट पर टाटीबंध, रायपुर निवासी शेख महमूद और मोहभट्ठा, बेमेतरा निवासी मुक्ता दुबे के खिलाफ बेमेतरा थाना में धारा 420 भादवि के तहत अपराध पंजीबद्ध कर दोनों को गिरफ्तार कर मंगलवार को सीजीएम न्यायालय में पेश किया गया, जहां से दोनों को 10 दिनों के न्यायिक रिमांड पर जेल भेज दिया गया है।

बयान में स्पष्ट हुई मुक्ता की संलिप्तता
स्व-सहायता समूहों से जुड़े महिलाओं से शेख महमूद ने लोन दिलाने के लिए लाखों रुपए की धोखाधड़ी की। इनमें से एक समूह जय महामाया महिला स्व-सहायता समूह का संचालन मुक्ता दुबे द्वारा किया जा रहा है। मुक्ता ने भी नगद शेख महमूद को 1,63,000 रुपए देने की बात कही थी, लेकिन समूह की महिलाओं के बयान से मामले में मुक्ता की संलिप्तता सामने आई है, जिसके बाद उसके खिलाफ भी धारा 420 के तहत प्रकरण दर्ज किया गया।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned